ब्रेकिंग न्यूज़
flipkart-1200x800
कारोबार क्राईम छत्तीसगढ़ ब्रेकिंग न्यूज़

फ्लिपकार्ट कंपनी से ग्राहक बनकर फ्रॉड:बिलासपुर में 50 से अधिक मोबाइल के IMEI नंबर बदले, पुराने का नया बताकर कराया एक्सचेंज; पकड़ा गया गिरोह

बिलासपुर

फ्लिपकार्ट कंपनी के एक्सचेंज ऑफर में ग्राहक बनकर कंपनी के साथ धोखाधड़ी करने वाले गिरोह को बिलासपुर पुलिस ने पकड़ा है। पकड़े गए आरोपी ऑफर का लाभ लेने के लिए पुराने मोबाइल का IMEI नंबर बदल देते और उसे नया बताकर एक्सचेंज कर लेते थे। गिरोह के पकड़े जाने के बाद पुलिस ने कंपनी की ओर से धोखाधड़ी का अपराध दर्ज किया है। पुलिस शुक्रवार को इस मामले का खुलासा कर सकती है।

पुलिस के अनुसार सिविल लाइन क्षेत्र के मिनीमाता नगर के नागदौने कालोनी निवासी रोशन खान (28) फ्लिपकार्ट के लाजिस्टिक कंपनी विली में हब इंचार्ज हैं। सरकंडा के मोपका के मारुति शो रूम के पास उनका ऑफिस है। पिछले 6 माह से कंपनी की ओर से एक्सचेंज ऑफर चलाया जा रहा है। ऑफर में ग्राहकों से पुराने मोबाइल लेकर उन्हें नया मोबाइल दिया जा रहा था। रोशन खान ने पुलिस को बताया कि चकरभाठा क्षेत्र से 50 से ज्यादा मोबाइल एक्सचेंज कर नया मोबाइल लिया गया है।

एक्सचेंज वाला मोबाइल जब कंपनी के हेड ऑफिस पहुंचा और उसकी जांच की गई, तब पता चला कि साफ्टवेयर बदलकर पुराने मोबाइल का IMEI नंबर बदल दिया गया है और ऑफर का लाभ लेने के लिए कंपनी के साथ धोखाधड़ी की जा रही है। मामला सामने आने पर कंपनी ने ऑफर बंद कर दिया। जांच में पता चला है कि बिलासपुर सहित देश के कई जगहों पर इस तरह से चालाकी कर कंपनी को चूना लगाया है। लिहाजा, कंपनी ने इस मामले की शिकायत दर्ज कराई है। बताया जा रहा है कि पुलिस की साइबर सेल ने इस गिरोह के सदस्यों को पकड़ लिया है।

दुकान संचालक व तकनीकी जानकारों की मिलीभगत
प्रारंभिक जांच में पता चला है कि शहर में मोबाइल के साफ्टवेयर व IMEI नंबर बदलने वालों में मोबाइल रिपेयरिंग व उसके तकनीकी जानकारों ने यह कारनामा किया है। उन्होंने ग्राहकों से कम कीमत में उनके मोबाइल खरीद लिए और कंपनी के ऑफर का फायदा उठाने के लिए नए मोबाइल का साफ्टवेयर बदलकर IMEI नंबर भी बदल दिया गया। इससे उन्हें पुराने मोबाइल के बदले नया मोबाइल मिल गया और कंपनी के कर्मचारियों को इसकी भनक भी नहीं लगी।

IMEI नंबर देखकर किए जा रहे थे एक्सचेंज
रोशन खान ने बताया कि कंपनी के ऑफर पर कर्मचारी केवल IMEI नंबर चेक कर पुराना मोबाइल ले रहे थे। इसके बदले ग्राहकों को नया मोबाइल दिया जा रहा था। पुराने मोबाइल जब कंपनी के हेड ऑफिस पहुंचा और उसकी जांच की गई, तब गड़बड़ी सामने आई। जांच में पता चला कि 50 से अधिक लोगों ने अपने पुराने मोबाइल का IMEI नंबर बदल दिया है।

देश के अन्य हिस्सों में भी हुई धोखाधड़ी
कंपनी के अधिकारी रोशन खान ने अपनी शिकायत में बताया कि इस तरह की धोखाधड़ी देश के अन्य शहरों में भी की गई है। इसकी जानकारी होने पर कंपनी ने सभी मोबाइल की जांच शुरू कर दी है। तकनीकी जांच में राज खुलने के बाद सभी जगहों पर आपराधिक प्रकरण दर्ज कराया जाएगा।

संबंधित पोस्ट

मुंबई:ईस्टर्न एक्सप्रेसवे पर कार में घुसा 8 फीट का अजगर; आधे घंटे तक रुका रहा ट्रैफिक, कड़ी मशक्कत के बाद निकाल कर हटाया

Khabar 30 din

मोदी सरकार के आठ साल बाद देश में बेरोज़गारी का हाल ?

Khabar 30 din

Indian Railways ने सिर्फ 5 महीनों में कैंसिल कर दी 9,000 से अधिक ट्रेनें, जानें- वजह और डिटेल

Khabar 30 din

सरकार ने रबी की फसलों पर MSP बढ़ाया:किसान बिलों पर हंगामे के बीच गेहूं के समर्थन मूल्य में 50 रुपए, चना और सरसों में 225 रुपए प्रति क्विंटल का इजाफा

Khabar 30 din

छत्तीसगढ़ में कोरोना से बेसहारा बच्चों को स्कूली शिक्षा नि:शुल्क, हर महीने छात्रवृत्ति भी देगी सरकार

Khabar 30 din

e-Wallet के जरिए अब ATM से निकल सकेंगे रुपए, इस पेमेंट कंपनी ने चालू की सुविधा

Khabar 30 din
error: Content is protected !!