ब्रेकिंग न्यूज़
20211208_150741
अन्य टेक्नोलॉजी देश विदेश प्रदेश बड़ी खबर ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति सोशल मीडिया

हेलीकॉप्टर दुर्घटना पर कोर्ट ऑफ इंक्वायरी निष्पक्ष होगी, इसमें कुछ हफ्ते लगेंगे: वायुसेना प्रमुख

खबर 30 दिन

अब्दुल सलाम क़ादरी

हैदराबाद, 18 दिसंबर एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी ने शनिवार को कहा कि तीनों सेवाओं के अधिकारियों को ले कर बनाए गए जांच दल की ‘कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी’ एक निष्पक्ष प्रक्रिया होगी और इस दल को घटना के प्रत्येक पहलू की जांच करने को कहा गया है।

चौधरी ने यहां के पास डुंडीगल में वायु सेना अकादमी में संयुक्त स्नातक परेड के इतर संवाददाताओं से कहा कि जांच को पूरा होने में ‘‘कुछ और सप्ताह लगेंगे’’।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के परिणाम को लेकर पहले से कोई संभावना नहीं जताना चाहता, क्योंकि यह एक समग्र प्रक्रिया है। उन्हें (एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह को) अधिकार दिया गया है कि हरेक पहलू की जांच की जाए और हर पहलू पर गौर किया जाए कि क्या गलत हुआ होगा और उसी आधार पर उचित सिफारिशें की जाएं तथा निष्कर्ष निकाला जाए।’’

चौधरी से जांच से जुड़ी जानकारियों और हेलीकॉप्टर हादसे संबंधी परिस्थितियों को लेकर सवाल किया गया था, जिसके जवाब में उन्होंने यह टिप्पणी की। तमिलनाडु के कुन्नूर में आठ दिसंबर को हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने के कारण भारत के प्रमुख रक्षा अध्यक्ष, उनकी पत्नी और 12 अन्य सैन्यकर्मियों की मौत हो गई थी।

उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि मैं इस बारे में जल्दबाजी में कोई घोषणा नहीं करूं कि इसका (हादसे का) कारण क्या हो सकता है या हम इसके लिए क्या प्रतिकारात्मक कदम उठाने जा रहा है, इसलिए हमें कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी पूरी होने तक कुछ और सप्ताह के लिए इंतजार करना होगा। मैं आपको यह भरोसा दिलाना चाहता हूं कि यह अत्यंत निष्पक्ष प्रक्रिया है।’’

हेलीकॉप्टर हादसे के बाद केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में सूचित किया था कि एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह के नेतृत्व में तीनों सेवाओं के दल ने दुर्घटना की जांच आरंभ कर दी है।

इससे पहले, चौधरी ने यहां पासिंग आउट परेड को संबोधित करते हुए कहा कि युद्ध की प्रकृति में मूलभूत परिवर्तन हो रहे हैं और भारत के सुरक्षा परिदृश्य में बहुआयामी खतरे एवं चुनौतियां शामिल हैं, जिनके लिए कई क्षेत्रों में क्षमता निर्माण की आवश्यकता होगी।

चौधरी ने कहा कि वायु सेना राफेल विमान, अपाचे हेलीकॉप्टर और व्यापक अत्याधुनिक प्रणालियों को शामिल करके एक अत्यधिक शक्तिशाली वायु सेना में बदल रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘युद्ध की प्रकृति में मूलभूत बदलाव आ रहे हैं। पिछले कुछ वर्षों में नई प्रौद्योगिकी और मौलिक रूप से नए सिद्धांत सामने आए हैं। भारत के सुरक्षा परिदृश्य में बहुआयामी खतरे और चुनौतियां शामिल हैं। इनसे निपटने के लिए हमें कई क्षेत्रों में क्षमताओं की आवश्यकता होगी और हमें हमारे सभी अभियानों को एक साथ और कम समय में पूरा करना होगा।’’

चौधरी ने तमिलनाडु में एक हेलीकॉप्टर हादसे में भारत के पहले प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और सशस्त्र बल के 12 अन्य अधिकारियों के असमय निधन पर शोक जताते हुए कहा कि इस दुर्घटना के मद्देनजर परेड के दौरान कई कार्यक्रमों को आयोजित नहीं करने का फैसला किया गया।

संबंधित पोस्ट

कोरोना दुनिया में:पाकिस्तान में 32 स्कूल संक्रमण के खतरे की वजह से बंद, ये 2 दिन पहले खोले गए थे; दुनिया में अब तक 3.03 करोड़ संक्रमित

Khabar 30 din

ब्लैक फंगस की घर बैठे छुट्टी:कानपुर के तीन होनहारों का कमाल, बेकिंग सोडा, नीम और लेमन ऑयल से बनाया हर्बल स्प्रे, CSIR-IITR की लैब में सफल टेस्टिंग

Khabar 30 din

कोरोना दुनिया में:अमेरिका संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ पार करने वाला पहला देश बना, महामारी की तीसरी लहर की चपेट में

Khabar 30 Din

RTI में खुलासा:मोदी सरकार में 7.94 लाख करोड़ रुपए का लोन राइट ऑफ हुआ, यह UPA सरकार के मुकाबले तीन गुना ज्यादा

Khabar 30 din

पत्रकार पर देशद्रोह का आरोप, BDF संयोजक प्रदीप दत्ता रॉय पर लिख दिया था ऐसा लेख

Khabar 30 din

किसान बिल पर बवाल:कमलनाथ ने कहा- शिवराज सरकार किसानों के साथ या उनके विरोध में; कमल पटेल का जवाब- फसल बीमा की 1553 करोड़ के नुकसान की भरपाई सोनिया करेंगी या कमलनाथ

Khabar 30 din
error: Content is protected !!