अयोध्या। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव से पहले अयोध्या में लगी राम मंदिर की होर्डिंग ने सियासत में भूचाल ला दिया है। भाजपा सरकार की ओर से लगे बैनर में लिखा है कि फर्क साफ तब रामलला थे टेंट में, अब हो रहा भव्य मंदिर का निर्माण। इसमें एक तरफ तिरपाल में विराजमान रामलला तो दूसरी तरफ राममंदिर के माडल को दर्शाया गया है। कई जगह लगी इस होर्डिंग अब चर्चा का विषय बन गयी है। इसने पूरे राजनीतिक माहौल को गरम कर दिया है।

भारतीय जनता पार्टी ने जहां इसे अपनी उपलब्धि बताने का प्रयास किया है, तो विपक्षी दल सपा और कांग्रेस इसे लेकर सवाल खड़ा कर रहे हैं। भाजपा इसमें कुछ भी गलत मानने को तैयार नहीं है। भाजपा सरकार की ओर यह होर्डिंग कई जगहों पर लगी हुई है। लेकिन रामजन्मभूमि के गेट नंबर-3 के यह होर्डिंग लगाई गई है। यहीं से कुछ दूरी पर बाबरी पक्षकार रहे इकबाल अंसारी का घर भी है।

इसी तरह की होर्डिंग शहर के अन्य कई स्थानों पर भी लगी हुई है। होर्डिंग्स में सबसे ऊपर लिखा है फर्क साफ है और सबसे नीचे भाजपा का चुनाव चिन्ह कमल का फूल बना है। होर्डिंग के ऊपरी हिस्से में जहां तब व अब की उपलब्धि बताने की कोशिश की गई है। तब के नीचे टेंट में विराजमान रामलला व अब के नीचे निमार्णाधीन राम मंदिर का मॉडल है। इसी तरह होर्डिंग के निचले हिस्से में सोच ईमानदार, काम दमदार और एक बार भाजपा सरकार लिखा हुआ है।

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष गंगा सिंह यादव का कहना है कि रामलला को टेंट पर पहुंचाने वाले कौने थे, यह सभी जानते हैं। अगर यह लोग 6 दिसम्बर को विवादित ढांचे को न तोड़ते तो शायद यह टेंट पर न आते। यह लोग सुप्रीम कोर्ट के काम को भी अपना बता रहे है। रामंदिर सर्वोच्च न्यायालय के आदेष पर बन रहा है। इसमें भाजपा की कोई उपलब्धि नहीं हैं। रही बात अयोध्या के विकास की तो सारा काम सब सपा शासन में हुआ है। चाहे ओवर ब्रिज का काम हो। या 14 कोसी परिक्रमा स्थल का चौडा़करण हो,यह सब सपा की सरकार में हुआ है। भाजपा शासनकाल में रोज जमीन के घोटाले सामने आ रहे है।

कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अखिलेश यादव कहते हैं कि आज जरूरत है रोजगार की, महंगाई से मुक्ति की। लेकिन भाजपा सरकार लोगों को मुद्दों से भटकाने के लिए होर्डिंग लगा रही है। अयोध्या में कोई विकास नहीं हुई है। यहां पर गड्ढे में सड़क है सड़क में गड्ढा है। यह पार्टी सिर्फ मार्केटिंग करके सस्ता प्रचार लूटने के प्रयास में रहती है।

भाजपा के महानगर अध्यक्ष अभिषेक मिश्रा कहते हैं कि विपक्षियों का काम सिर्फ आरोप लगाना है। हमारी जो होर्डिंग लगी है, उससे दिख रहा है कि फर्क साफ है। रामलला टेंट में थे आज उनका भव्य मंदिर बन रहा है। यही फर्क साफ है। जब हम फर्क साफ जनता को दिखा रहे हैं तो विपक्षी बौखला गये हैं । पिछली सरकारों से हमारा काम बेहतर हुआ है।