ब्रेकिंग न्यूज़
maxresdefault
प्रदेश बड़ी खबर ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति

कांग्रेस को बड़ा झटका, प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह ने दिया इस्तीफा, हरीश रावत के हैं करीबी

जोत सिंह बिष्ट ने इस्तीफे के बाद कहा कि आलाकमान के रवैये से मेरा मन बहुत दुखी है, अब आज की तारीख से मेरा और कांग्रेस का कोई संबंध नही है। उन्होंने कहा कि मैंने कांग्रेस में वैचारिक रूप से जुड़कर काम किया।

उत्तराखंड में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। दरअसल पार्टी के वरिष्ठ नेता और हरीश रावत के करीबी माने जाने वाले निवर्तमान प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट ने कांग्रेस से अपना इस्तीफा दे दिया है। जोत सिंह बीते उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के दौरान भी चर्चा में आये थे। उन्होंने चुनाव के दौरान पार्टी के ही कुछ नेताओं पर भितरघात करने का आरोप लगाया था।

बता दें कि उत्तराखंड में उपचुनाव भी होने वाले हैं। ऐसे में वरिष्ठ नेता जोत सिंह का कांग्रेस का साथ छोड़ना पार्टी के लिए परेशानी खड़ी कर सकता है। उत्तराखंड की चंपावत सीट पर उपचुनाव के लिए 31 मई को वोट डाले जाएंगे, वहीं नतीजे 3 जून को सामने आएंगे।

इस्तीफा देने के बाद जोत सिंह बिष्ट ने कहा कि कुछ कांग्रेस नेताओं ने खुलेआम चुनाव के दौरान भाजपा प्रत्याशी का समर्थन किया गया। उन्होंने भाजपा उम्मीदवार का प्रचार किया और उनके लिए धन भी बांटा। उन्होंने कहा कि मैंने इसकी शिकायत की लेकिन आलाकमान ने इसपर कोई कार्रवाई नहीं की।

Raj Yog In May: मई में बन रहे कई धन राजयोग, इन 3 राशियों पर पड़ेगा विशेष प्रभाव, खुल सकते हैं किस्मत के नए द्वार

बिष्ट ने कहा कि इस तरह के रवैये से मेरा मन बहुत दुखी है, अब आज की तारीख से मेरा और कांग्रेस का कोई संबंध नही है। उन्होंने कहा कि मैंने कांग्रेस में वैचारिक रूप से जुड़कर काम किया। 40 साल तक अपनी सेवा दी लेकिन अब पार्टी में वैसा विचार नही दिख रहा है, इसलिए अब कांग्रेस में नहीं रह सकता।

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के जरिए उन्होंने लिखा, “सभी साथियों को अत्यंत दुखी मन से सूचित कर रहा हूं कि कांग्रेस में चल रहे अंतर्कलह, अनुशासन हीनता, निष्ठावान कार्यकर्ताओं की अनदेखी व एक तरफा फैसलों के चलते और पार्टी के भविष्य को अनिश्चितता की ओर जाते देख रहा हूं। अब मैं बिना किसी व्यक्तिगत दुर्भावना रखे कांग्रेस पार्टी के सभी पदों के साथ पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से त्यागपत्र दे रहा हूं।”

अपनी पोस्ट में उन्होंने अंत में कहा, “बातें बहुत हैं लेकिन अधिक लिखना संभव नहीं है। मेरी कार्यशैली की वजह से मुझे पसंद या नापसंद करने वाले आप सभी साथियों का आभार प्रकट करता हूं। फैसला लेते हुए मन बहुत आहत है।”

बता दें कि बीते उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में भाजपा को सबसे अधिक सीटे मिली थीं। राज्य की 70 विधानसभा सीटों में से भाजपा ने कुल 47 सीटें जीती थीं।

संबंधित पोस्ट

UP की आज की बड़ी खबरें …..

Khabar 30 din

मनमोहन सरकार पर बरसे प्रधानमंत्री मोदी, 10 साल तक देश में किए सिर्फ घाटाले और घपले

Khabar 30 din

अफवाहों पर ना जाएं, अपनी अक्ल लगाएं:सरकार खुद ही फैला रही कोरोना के इलाज से जुड़ी गलतफहमी; बड़े बिजनेसमैन भी हमें-आपको कर रहे कंफ्यूज

Khabar 30 din

योगी आदित्यनाथ को दिग्विजय की सलाह- कृपया इतिहास और भूगोल मोदी जी से न पढ़ें

Khabar 30 din

सेंट्रल जेल में कैदी की मौत:परिजनों ने कहा-झूठे केस में फंसाया और मारपीट की, शव लेने से इनकार

Khabar 30 din

अतिक्रमण पर चला प्रशासन का बुलडोजर,कबाड़ी पप्पू टोपी का ढहा दिया कबाड़ का डेरा

Khabar 30 Din
error: Content is protected !!