ब्रेकिंग न्यूज़
बड़ी खबर

फेसबुक पोस्ट विवाद:कांग्रेस के बाद तृणमूल कांग्रेस ने मार्क जकरबर्ग को चिट्ठी लिखी, कहा- भाजपा और फेसबुक के बीच लिंक है नई दिल्ली/कोलकाता2 घंटे पहले

फेसबुक हेट स्पीच मामले में कांग्रेस पिछले एक महीने में दो बार लेटर लिख चुकी है। मंगलवार को आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद ने फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग को चिट्ठी लिखी थी।
  • तृणमूल कांग्रेस ने लिखा- भाजपा और फेसबुक के लिंक के सार्वजनिक तौर पर कई सबूत हैं
  • ‘बंगाल में चुनाव के कुछ महीने बचे हैं, फेसबुक ने कई पोस्ट हटानी शुरू कर दी हैं’

फेसबुक पोस्ट विवाद में कांग्रेस के बाद तृणमूल कांग्रेस ने फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग को चिट्ठी लिखी है। इसमें आरोप लगाया गया है कि भाजपा और फेसबुक के बीच कोई लिंक है। पार्टी के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने लिखा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव होने में अभी कुछ ही महीने हैं, आपकी कंपनी ने बंगाल में फेसबुक पेज और अकाउंट्स को ब्लॉक करना शुरू कर दिया है। यह इसी कड़ी की तरफ इशारा करता है।

उन्होंने कहा कि दोनों की मिलीभगत के सार्वजनिक तौर पर कई सबूत हैं। इनमें आपकी कंपनी के इंटरनल मेमो भी शामिल हैं। कुछ साल पहले, मैंने आपसे इनमें से कुछ मुद्दों पर चिंता जताई थी। भारत में फेसबुक प्रबंधन के खिलाफ इन गंभीर आरोपों की जांच के मामले में पारदर्शिता रखने की अपील की थी।

एक दिन पहले केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी चिट्ठी लिखी थी

  • मंगलवार को आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद ने फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग को चिट्ठी लिखी थी। उन्होंने कहा, ‘आपके कर्मचारियों ने मोदी सरकार के अधिकारियों को अपशब्द कहे और यह ऑन रिकॉर्ड है।’
  • आईटी मिनिस्टर ने कहा-आपकी कंपनी के भीतर से ही चुनकर चीजों को लीक किया जा रहा है, ताकि एक वैकल्पिक झूठ को खड़ा किया जा सके। अंतरराष्ट्रीय मीडिया और फेसबुक कर्मचारियों का एक ग्रुप बदनीयती रखने वालों को हमारे देश के महान लोकतंत्र पर कलंक लगाने की खुली छूट दे रहा है।

कांग्रेस ने दो बार फेसबुक को चिट्ठी लिखी
फेसबुक हेट स्पीच मामले में कांग्रेस पिछले एक महीने में दो बार लेटर लिख चुकी है। कांग्रेस ने इनमें कहा था कि हेट स्पीच मामले में लगाए गए आरोपों पर आप क्या कदम उठाने जा रहे हैं और क्या उठाए गए हैं।
कांग्रेस ने कहा था कि हम भारत में इस मामले पर कानूनी सलाह ले रहे हैं। अगर जरूरत पड़ी तो कार्रवाई भी की जाएगी। यह सुनिश्चित किया जा सके कि एक विदेशी कंपनी देश के सामाजिक ताने-बाने को नुकसान न पहुंचा सके।

राहुल गांधी ने 29 अगस्त को ट्वीट कर कहा था “टाइम ने वॉट्सऐप और भाजपा की साठगांठ का खुलासा किया है। 40 करोड़ भारतीय यूजर वाला वॉट्सऐप पेमेंट सर्विस भी शुरू करना चाहता है, इसके लिए मोदी सरकार की मंजूरी जरूरी है। इस तरह वॉट्सऐप पर भाजपा के नियंत्रण का पता चलता है।” टाइम की रिपोर्ट में कहा गया था कि फेसबुक भाजपा नेताओं के मामलों में भेदभाव करती है। वॉट्सऐप भी फेसबुक की कंपनी है।

संबंधित पोस्ट

मध्य प्रदेश: कोविड-19 से डिप्टी रेंजर पति की मौत के सदमे में कथित तौर पर प्रोफेसर ने की ख़ुदकुशी

Khabar 30 Din

महासमुंद की जिला जेल से दोपहर 3:30 बजे 5 कैदी फरार; कंबल जोड़कर 21 फीट ऊंची दीवार पर चढ़कर दूसरी ओर उतरे, जेलर स्कूटी से करते रहे पीछा

Khabar 30 din

National Farmers Day : किसान दिवस पर आज भूख हड़ताल करेंगे प्रदर्शनकारी किसान

Khabar 30 din

गुजरात ‘मॉडल’ को चुनौती देने वाले केवड़िया कॉलोनी संघर्ष का पुनरावलोकन

Khabar 30 din

आसान शब्‍दों में जानिए किसान कानून, क्‍या है किसानों का डर Vs सरकार की दलील?

Khabar 30 din

मध्य प्रदेश कैबिनेट की बैठक में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने लिए कई महत्वपूर्ण फैसले

Khabar 30 Din