ब्रेकिंग न्यूज़
ब्रेकिंग न्यूज़

आज का इतिहास:55 साल पहले भारत ने पंजाब के रास्ते पाकिस्तान पर हमला बोला था; 2 साल पहले सुप्रीम कोर्ट ने समलैंगिक रिश्तों को मंजूरी दी

  • पाकिस्तान तो आज भी इस दिन को डिफेंस डे के तौर पर मनाता है, इस खुशी में कि उसने भारत को आगे बढ़ने से रोका
  • सुप्रीम कोर्ट ने 6 सितंबर 2018 को ऐतिहासिक फैसला सुनाया, उसने 1861 के इंडियन पीनल कोड (आईपीसी) के सेक्शन 377 को रद्द किया था

भारतीय इतिहास में 1965 में पाकिस्तान से हुए युद्ध को उतना महत्व नहीं दिया जाता जितना 1962 के चीन युद्ध या 1971 के पाकिस्तान युद्ध को देते हैं। लेकिन, अहम यह है कि 1965 में आज ही के दिन भारत ने पंजाब के रास्ते पाकिस्तान के लाहौर पर हमला बोला था। भारतीय फौज पंजाब फ्रंट से लाहौर तक पहुंच गई थीं। सियालकोट, लाहौर के साथ ही कश्मीर के कुछ उपजाऊ हिस्से भी भारत के कब्जे में थे।

संयुक्त राष्ट्र के दखल के बाद 23 सितंबर को सीजफायर की घोषणा हुई। दोनों ही देश दावे करते हैं कि यह युद्ध उन्होंने जीता। पाकिस्तान तो आज भी इस दिन को डिफेंस डे के तौर पर मनाता है। इस खुशी में कि उसने भारत को आगे बढ़ने से रोका। बाद में भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री ने पाक प्रधानमंत्री अयूब खान के साथ ताशकंद समझौता किया। ताशकंद उस समय सोवियत संघ में था, और आज उज्बेकिस्तान का हिस्सा है। 1965 के युद्ध के बाद ही लालबहादुर शास्त्री ने प्रसिद्ध नारा दिया था- जय जवान, जय किसान।

सुप्रीम कोर्ट में समलैंगिक रिश्तों की जीत

सुप्रीम कोर्ट ने 6 सितंबर 2018 को ऐतिहासिक फैसला सुनाया। उसने 1861 के इंडियन पीनल कोड (आईपीसी) के सेक्शन 377 को रद्द किया था। इस सेक्शन के हिसाब से तो समलैंगिकता एक अपराध थी, जिसे दंडित किया जाना चाहिए। इसे भारत के एलजीबीटी अधिकारों के लिए लड़ने वाले कार्यकर्ताओं की बड़ी जीत बताया जाता है। हालांकि, अब भी एलजीबीटी राइट्स एक्टिविस्ट समलैंगिक शादियों की वैधता को लेकर लड़ रहे हैं।

कोर्ट के फैसले को न केवल समलैंगिक, बल्कि ह्यूमन राइट्स कार्यकर्ता भी महत्वपूर्ण मानते हैं। इस फैसले के बाद पूरे देश में जश्न मनाया गया था।
कोर्ट के फैसले को न केवल समलैंगिक, बल्कि ह्यूमन राइट्स कार्यकर्ता भी महत्वपूर्ण मानते हैं। इस फैसले के बाद पूरे देश में जश्न मनाया गया था।

विक्टोरिया ने पूरा किया दुनिया का चक्कर

1522 में विक्टोरिया दुनिया का पहला ऐसा जहाज बन गया जिसने दुनिया का पूरा चक्कर लगाया हो। यह एक स्पेनिश जहाज था, जिसकी कमांड पुर्तगाली एक्सप्लोरर फर्डीनांड मैगेलन के पास थी। उन्होंने 20 सितंबर 1519 को इंडोनेशिया के लिए सबसे अच्छा रास्ता तलाशने के लिए सफर शुरू किया था। यह खोज 5 जहाजों के साथ शुरू हुई थी, जिसमें विक्टोरिया और 260 क्रू मेंबर शामिल थे। तीन साल बाद 6 सितंबर 1522 को जब यह जहाज दुनिया का पूरा चक्कर लगाकर स्पेन के सेविले में लौटा तब सिर्फ 18 क्रू मेंबर बचे थे। मैगेलन की भी मौत हो चुकी थी।

विक्टोरिया जहाज का रेप्लिका। यह तस्वीर नागोया, जापान में ली गई है।
विक्टोरिया जहाज का रेप्लिका। यह तस्वीर नागोया, जापान में ली गई है।

इतिहास के पन्नों में दर्ज अन्य अहम घटनाएं इस प्रकार हैं-

  • 1716ः पहला लाइट हाउस उत्तरी अमेरिका के बोस्टन में बनाया गया।
  • 1870: अमेरिका में पहली बार किसी महिला ने स्थानीय चुनावों में वोट डाला। हालांकि, राष्ट्रीय चुनावों में वोटिंग का अधिकार महिलाओं को 1920 में मिला था।
  • 1901: अमेरिका के 25वें राष्ट्रपति विलियम मैककिनले को गोली मार दी गई थी। आठ दिन बाद उनकी मौत हो गई थी।
  • 1915ः पहला युद्धक टैंक बनाया गया। इंग्लैंड में बने टैंक के पहले प्रोटोटाइप को “लिटिल विलि’ के नाम से पुकारा गया।
  • 1916: पहला सुपर मार्केट अमेरिका के टेनेसी में खुला।
  • 1937: इल मजूको युद्ध के साथ स्पेन में गृह युद्ध शुरू हुआ।
  • 1958: अमेरिका ने अटलांटिक सागर में परमाणु परीक्षण किया।
  • 1969: अफ्रीकी देश स्वाजीलैंड को ब्रिटेन से आजादी मिली। आज के दिन को इस देश का राष्ट्रीय दिवस घोषित किया गया।
  • 1972: हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के दिग्गज उस्ताद अलाउद्दीन खान का निधन हुआ।
  • 1986: इस्तांबुल में यहूदी उपासना गृह में हमले में 23 लाेग मारे गए।
  • 1988: 11 साल की उम्र में थॅामस ग्रेगोरी इंग्लिश चैनल पार करने वाले सबसे कम उम्र के तैराक बने।
  • 1991: रूस के दूसरे सबसे बड़े शहर को कभी सेंट पीटर्सबर्ग, कभी पेत्रोग्राद तो कभी लेनिनग्राद नाम से जाना जाता रहा। इस शहर को अपना पुराना नाम सेंट पीटर्सबर्ग वापस मिला था।
  • 1991: सोवियत संघ ने तीन बाल्कन राष्ट्रों एस्टोनिया, लाट्विया और लिथुआनिया को 50 साल के कम्युनिस्ट शासन से आजाद किया था।
  • 1997: बिट्रेन ने एक हफ्ते तक शोक मनाने के बाद प्रिंसेस डायना को ब्रिटेन ने अंतिम विदाई दी थी।
  • 2007: इजरायल ने ऑपरेशन ऑर्चर्ड चलाते हुए सीरिया के न्यूक्लियर रिएक्टर को उड़ाया था।
  • 2008: अमेरिका और भारत के बीच न्यूक्लियर डील को न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप ने मंजूरी दी थी। इससे अमेरिका को यह अनुमति मिल गई थी कि वह भारत को एनर्जी प्रोग्राम को तेजी देने के लिए न्यूक्लियर टेक्नोलॉजी बेच सके।
  • 2012: बराक ओबामा अमेरिका के राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार बने।

संबंधित पोस्ट

CG से UP जा रही ‘मदद’ रास्ते में अटकी:​​​​​​​अंबिकापुर के पास ऑक्सीजन टैंकर हुआ खराब, सुधरने में 5 घंटे लगे; लखनऊ के मेदांता अस्पताल के लिए प्रियंका गांधी ने मांगी है मदद

Khabar 30 Din

ऑनलाइन फर्जीवाड़ा:खुद को मुकेश अंबानी बताकर बिलासपुर के नगर सैनिक से ठग लिए 65 लाख रुपए, दो करोड़ देने का वादा कर दिया वारदात को अंजाम

Khabar 30 din

मैं एसटीएफ का शुक्रगुजार हूं, जिन्होंने मेरा एनकाउंटर नहीं किया, सिर्फ टॉर्चर किया, फिजिकली-मेंटली दोनों, 5 दिन खाना नहीं दिया : डॉ. कफील खान

Khabar 30 din

पुरी जगन्नाथ मंदिर आज से खुलेगा:बाहर से आए भक्तों को 3 जनवरी से भगवान जगन्नाथ के दर्शन की इजाजत मिलेगी, पहले कोरोना टेस्ट होगा

Khabar 30 din

जम्मू-कश्मीर में DDC इलेक्शन की काउंटिंग:फारूक-महबूबा अलायंस को लीड, 62 सीटों पर आगे, 2 जीतीं; भाजपा को 48 सीटों पर बढ़त

Khabar 30 din

रायपुर : छत्तीसगढ़ में अब तक 1260.5 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

Khabar 30 din