ब्रेकिंग न्यूज़
COVID 19 क्राईम छत्तीसगढ़ लोकल ख़बरें सोशल मीडिया स्वास्थ्य

छत्तीसगढ़ में शराब में होम्योपैथिक दवा मिलाकर पीने से 9 लोगों की मौत, 4 अस्पताल में भर्ती; पूरी बस्ती की जांच हो रही

बिलासपुर

गांव में एकसाथ चार युवकों की मौत की सूचना किसी ने सिरगिट्टी थाना पुलिस की दी। पुलिस ने दो गंभीर युवकों को CIMS और अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया।

कोरोना से बचने के लिए कई लोग नासमझी वाले कदम उठा रहे हैं। छत्तीसगढ़ में बिलासपुर के एक गांव में कुछ युवकों ने महुए की कच्ची शराब के साथ होम्योपैथिक की ड्रोसेरा कफ सिरप मिलाकर पी ली। इससे 9 युवकों की मौत हो गई। 4 युवकों को CIMS में इलाज चल रहा है।

घटना जिले के सिरगिट्टी इलाके के कोरमी धुरीपारा गांव की है। बताया जा रहा है कि बस्ती में इस होम्योपैथिक सिरप को कई परिवारों में इस्तेमाल किया जा रहा था। लेकिन युवकों ने इसे शराब में मिलाकर पी लिया, जिससे यह जानलेवा हो गया। जान गंवाने वालों में से 4 की मौत बुधवार सुबह, 4 ने शाम तक जबकि 1 ने गुरुवार को दम तोड़ दिया।

देर रात सूचना मिलते ही पुलिस गांव में पहुंची
गांववालों ने पुलिस को एकसाथ 4 युवकों की मौत की सूचना दी। इस पर थाना प्रभारी देर रात टीम के साथ गांव पहुंच गए। पूछताछ में पूरी घटना का खुलासा हुआ इसके बाद बाकी बीमार युवकों को कुछ युवकों को CIMS में भर्ती किया गया। एक युवक की हालत गंभीर थी, जिसे अपोलो अस्पताल में भर्ती किया गया। इनमें से तीन युवकों ने इलाज के दौरान जबकि एक न गांव में ही दम तोड़ दिया। अब स्वास्थ्य विभाग ने गांव में कैंप लगाकर बस्ती के सभी लोगों की जांच शुरू कर दी है। कुछ युवक ऐेसे भी मिले हैं, जिन्होंने यह सिरप पिया था, लेकिन उन्हें कुछ नहीं हुआ।

पुलिस हिरासत में आरोपी डॉक्टर

मामले में सिरगिट्टी पुलिस ने डॉक्टर को हिरासत में लिया है। फिलहाल, उससे पूछताछ जारी है। आरोपी डॉक्टर पर गैर इरादतन हत्या का मामला चलाया जाएगा।

जिला चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर प्रमोद महाजन ने कहा कि गांव में डॉक्टरों की टीम तैनात की गई है। घर-घर जांच की जा रही है।

जिला चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर प्रमोद महाजन ने कहा कि गांव में डॉक्टरों की टीम तैनात की गई है। घर-घर जांच की जा रही है।

डॉक्टर ने कहा- सिरप नहीं प्योर फार्म होगा
होम्योपैथी के डाक्टर निशांत शुक्ला का कहना है कि युवकों ने जो पिया है वह सिरप (मदर टिंचर) नहीं होगा, बल्कि डाल्यूटर होगा। मदर टिंचर में काफी कम पोटेंसी होती है, जबकि डाल्यूटर में 90% से भी ज्यादा अल्कोहल होता है। ऐसा लिक्विड पीने से लिवर, हार्ट पर बहुत असर होता है और मौत हो सकती है।

संबंधित पोस्ट

सीएमएचओ डॉ शर्मा ने की अपील – कोरोना संक्रमण के लक्षण हो तो जरूर करायें जांच, जांच के लिये बेहतर सुविधा है उपलब्ध

Khabar 30 din

बिलासपुर में फर्जी दस्तावेज से छापा मारने वाले ACB के पूर्व प्रभारी समेत एक IPS के खिलाफ FIR

Khabar 30 Din

रायपुर में कोरोना:इनकम टैक्स के प्रिंसिपल डायरेक्टर आलोक जौहरी की मौत; 1005 हेल्थ वर्कर, 700 से ज्यादा फ्रंटलाइन वॉरियर संक्रमित हो चुके

Khabar 30 din

आज से फिर शीतलहर:उत्तर-पूर्वी हवाओं से गिरेगा पारा, मैदानी इलाकों में एक-दो दिन बाद बढ़ेगी ठंड

Khabar 30 din

बाबरी मस्जिद विध्वंस केस:27 साल बाद 30 सितंबर को आएगा फैसला; आडवाणी, उमा, कल्याण समेत 32 आरोपियों को अदालत में मौजूद रहना होगा

Khabar 30 din

किसान आंदोलन का बढ़ा दायरा:यूपी-हरियाणा में रोके गए जत्थे तो ट्रेन से दिल्ली पहुंच गये छत्तीसगढ़ के 100 से अधिक किसान

Khabar 30 din