ब्रेकिंग न्यूज़
COVID 19 मध्यप्रदेश राजनीति

MP में अब तीसरी लहर की चिंता:चिकित्सा शिक्षा मंत्री बोले- हम सुविधाएं बढ़ा रहे; हकीकत- 75% मरीज होम आइसोलेशन में फिर भी ICU के 10 हजार में से 936 बेड ही बचे

भोपाल
मंत्री सारंग ने एक दिन पहले हमीदिया अस्पताल डी ब्लॉक कोविड सेंटर का निरीक्षण किया।
  • दावा – स्वास्थ्य सेवाएं ठीक होने के कारण प्रदेश में बाहर के मरीज आ रहे
  • लगातार एक्टिव केस बढ़ना चिंता है

मध्यप्रदेश में बीते दो दिनों से कोरोना के नए केस तो घट गए हैं। इसी कारण सरकार मानकर चल रही है, दूसरी लहर कमजोर पढ़ने लगी है। इसी कारण अब शासन तीसरी लहर के पहले की तैयारी करने की बात कहने लगी है। यह बात रविवार को पत्रकारों से चर्चा के दौरान चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कही। उन्होंने कहा, लगातार केस कम हो रहे हैं। हमें अब तीसरी लहर को रोकने की तैयारी करना चाहिए। हालांकि उन्होंने संतोष जताते हुए कहा, जिस तरह से प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार हुआ है, उसी का नतीजा है कि प्रदेश के बाहर से भी लोग यहां इलाज आ रहे हैं।

यह सच है, बीते दो दिन में पॉजीटिव रेट में कमी आई है, लेकिन ठीक होने वालों की संख्या में कमी आना चिंता का विषय है। प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 1 लाख के पर पहुंच गई है। बीते 8 दिनों के दौरान 4 दिन नए केस के मुकाबले ठीक होने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है। 6 मई को 12,421 नए केस आए थे, जबकि इस दिन कुल 12,965 मरीज ठीक हुए थे। इससे पहले 1 मई को 12,379 नए केस के मुकाबले 14,562 मरीज कोरोना को मात देकर घर पहुंचे थे। 2 मई और 3 मई को भी नए केस की अपेक्षा में ज्यादा मरीज ठीक हुए थे।

अगर बाहर के मरीज बढ़े तो फिर…

सरकारी आंकड़ों में 10 हजार ICU बेड में से सिर्फ 936 ही खाली हैं। आइसोलेशन के बेड जरूर करीब 55% खाली हैं। प्रदेश में कुल 28 हजार में से अभी 17 हजार से ज्यादा खाली पड़े हैं। सरकार के अनुसार प्रदेश में कुल कोरोना मरीजों में 75% होम आइसोलेशन में हैं और 25% अस्पतालों में है, जिनमें से 14% ऑक्सीजन बेड्स पर, 7% ICU बेड और 4% मरीज सामान्य बेड पर हैं। इसी तरह, दूसरे प्रदेश के मरीज इलाज कराने के लिए प्रदेश में आते रहे, तो स्थिति का अंदाजा भी लगाना मुश्किल होगा।

उम्मीद की खबर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 18 से लेकर 44 और 45 वर्ष से ऊपर वालों को वैक्सीन की अब लगातार उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। वैक्सीन आयात करने की संभावना पर भी विचार किया जा रहा है। हमें उम्मीद है कि रूस से जून के प्रथम माह से स्पूतनिक वैक्सीन मिल सकेगी। हम वैक्सीन का एक भी डोज खराब नहीं होने देंगे। प्रदेश में सभी को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा है।

प्रदेश में अस्पतालों की स्थिति

क्रमांक कुल बेड भरे खाली
आइसोलेशन बेड 28381 10495 17886
ऑक्सीजन सपोर्ट बेड 26814 20354 6460
ICU/HDC बेड 10078 9142 936

नोट : बेड की स्थित मध्यप्रदेश सरकार के सार्थक पोर्टल की जानकारी के अनुसार 9 मई की दोपहर 12.15 की जानकारी के अनुसार है।

प्रदेश में कोरोना की स्थिति

दिन नए केस नए ठीक हुए सक्रिय मरीज
8 मई 11598 4445 102486
7 11708 4815 95423
6 12421 12965 88614
5 12319 9643 89244
4 12236 6003 86639
3 12062 13408 85750
2 12662 13890 87189
1 मई 12379 14562 88511

संबंधित पोस्ट

वीडियो पर सियासी घमासान:मध्यप्रदेश की मंत्री इमरती देवी के बोल बिगड़े; कहा-जिस कलेक्टर को कहेंगे वह सीट जितवा देगा, बाद में पलटी, कांग्रेस का तंज- सत्ता के दम पर चुनाव जीतना चाह रहे

Khabar 30 din

दिवंगत नगर निरीक्षक को दी श्रद्धांजलि

Khabar 30 Din

जे. ई. साहब क़ी मनमानी का शिकार हो रहे आम नागरिक।

Khabar 30 Din

केंद्र जांच एजेंसियों को ‘हथियार’ की तरह कर रहा इस्तेमाल: महबूबा मुफ़्ती

Khabar 30 din

WHO की अपील रंग लाई:अमेरिका जरूरतमंद देशों को जून में 2 करोड़ वैक्सीन और देगा, 6 करोड़ वैक्सीन का वादा पहले ही कर चुकी है बाइडेन सरकार

Khabar 30 din

25 रुपए में बनाते थे नकली रेमडेसिविर:नर्स बहन खाली शीशी देती, भाई एंटीबायोटिक भरता और 8 हजार रु. में दलालों को बेच देता, मरीजों को 35 हजार तक में मिलता

Khabar 30 Din