ब्रेकिंग न्यूज़
क्राईम छत्तीसगढ़

स्कूल के बाहर महिला की लाश मिलने का मामला:पार्टी के बाद कॉल गर्ल बेहोश हुई तो कार से ले जाकर छोड़ा, सुबह पुलिस को मिली थी लाश; 6 दिन बाद एक डॉक्टर और लड़कियों का एजेंट गिरफ्तार

रायपुर
तस्वीर में दिख रहे इन आरोपियों में एक पेशे से फिजियोथेरेपिस्ट सुमित लिमटे और दूसरा महिला के लिए ग्राहक तलाशने वाला एजेंट उपेन्द्र यादव है।

माना इलाके में स्कूल के बाहर 4 मई को मिली महिला की लाश के मामले में पुलिस ने सोमवार की शाम दो लोगों को गिरफ्तार किया है। महिला के परिजनों के सामने आने के बाद इस पूरे मामले में नया खुलासा हुआ। अब पता चला है कि महिला पेशे से कॉल गर्ल थी। 3 मई को वो जिन दो लोगों के साथ थी, वे ही उसे माना के स्कूल के बाहर छोड़कर भाग गए थे। इनमें एक पेशे से फिजियोथेरेपिस्ट डीडी नगर निवासी सुमित लिमटे और दूसरा महिला के लिए ग्राहक तलाशने वाला एजेंट उपेन्द्र यादव है।

ये हुआ था उस रात
महिला की लाश मिलने के बाद पुलिस को जांच के दौरान सुमित लिमटे के बारे में पता चला। ये भी पता चला कि विनय और उपेंद्र नाम के लड़कियों के दलाल के जरिए सुमित लड़की से मिला था। इसके बाद पुलिस ने सुमित को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। पूछताछ में सुमित ने बताया कि 3 मई की रात महिला को उपेंद्र ने मेरे पास भेजा। मैंने महिला के साथ पार्टी की। इस दौरान उसने खूब शराब पी। अधिक शराब पीने की वजह से वो बेहोश हो गयी मगर उसकी सांसें चल रही थीं। इसके बाद सुमित लिमटे ने विनय और उपेन्द्र यादव फोन किया।

माना के कुछ लोगों ने इस तरह महिला की लाश पड़ी होने की सूचना पुलिस को दी थी।
माना के कुछ लोगों ने इस तरह महिला की लाश पड़ी होने की सूचना पुलिस को दी थी।

फोन करने के बाद उपेंद्र सुमित के पास पहुंचा। फिर दोनों कार में महिला को लेकर निकल गए। इनकी कार माना कोविड अस्पताल के बाहर रुकी। आरोपियों ने सोचा कि कोविड अस्पताल में युवती को भर्ती करवाकर पिंड छुड़ा लेंगे। मगर डर की वजह से उन्होंने अस्पताल से आगे कुछ दूरी पर स्थित स्कूल के बाहर महिला को लिटा दिया और वहां से भाग निकले। सुबह स्थानीय लोगों ने महिला की लाश देखी जिसके बाद पुलिस को मामले की सूचना दी गई।

पति की मौत के बाद आ गई जिस्मफरोशी की दुनिया में
पुलिस की जांच में 6 दिन बाद महिला की पहचान हो सकी। महिला के घर वाले खुद पुलिस के पास पहुंचे। दरअसल जांच टीम महिला की तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल कर रही थी। इसी दौरान मृतका का भाई पुलिस के पास पहुंचा। उसने बताया कि वो गज्जीटोला थाना खड़गांव जिला राजनांदगांव की रहने वाली थी। 9 साल पहले उसने कुरूद निवासी चन्द्रेश भारती के साथ लव मैरिज की थी।

युवती के घर वालों ने पुलिस के पास आकर उसकी पहचान बताई।
युवती के घर वालों ने पुलिस के पास आकर उसकी पहचान बताई।

उसकी एक 7 साल की बेटी भी है। 2 साल पहले पति की मौत हो गई, इस वजह से वो बेटी के साथ रायपुर चंगोराभाठा में किराए का मकान लेकर रह रही थी। झाड़ू पोंछा का काम करती थी। इसी दौरान उसकी पहचान खमतराई के रहने वाले विनय से हुई। ये लड़कियों के साथ मिलकर जिस्मफरोशी का धंधा करता है। मामले का आरोपी उपेंद्र, विनय का साथी है। इन दोनों ने युवती को अपने इस काम में शामिल कर लिया। धीरे-धीरे वो शराब की आदी हो गई, घटना वाली रात ये लत भी मौत का कारण बनी।

संबंधित पोस्ट

एक ही परिवार के 3 लोगों की हत्या:पिता-बेटी और बेटे को लाठी-डंडों से पीट कर मार डाला, 2 घायल; पड़ोसियों से जमीन को लेकर था विवाद, 3 महिलाओं सहित 5 हिरासत में

Khabar 30 Din

एवरेस्ट पर छत्तीसगढ़ की नैना सिंह धाकड़:दुनिया की सबसे ऊंची पर्वत चोटी पर लहराया तिरंगा

Khabar 30 din

ऑपरेशन किया और पेट में छोड़ दी पट्टियां:बिलासपुर के जनस्वास्थ्य केंद्र में बड़ी लापरवाही, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने कराया ऑपरेशन फिर दर्द से कराहती दूसरे अस्पतालों में भटकती रही, पुलिस में शिकायत

Khabar 30 din

श्रीमती भारती प्रधान बस्तर, जगदलपुर की जिला शिक्षा अधिकारी है ? या किसी गाँव की अनपढ़ पंच समझ से परे?

Khabar 30 din

पुलिस अस्पताल के डॉक्टर की ब्लैक फंगस से मौत

Khabar 30 din

क्या MP सरकार झूठ बोल रही:सरकार का हाईकोर्ट में दावा- राज्य में ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई

Khabar 30 din