ब्रेकिंग न्यूज़
क्राईम छत्तीसगढ़ प्रदेश ब्रेकिंग न्यूज़

थाने में घुसकर जला दी कांस्टेबल की कार और बाइक, केरोसिन से भीगा बोरा डाल कर लगाई आग

अंबिकापुर
मौसम खराब होने के कारण कुन्नी चौकी क्षेत्र में लाइट नहीं थी। जिससे पूरे क्षेत्र में अंधेरा था। इसका फायदा उठाते हुए बदमाशों ने बोरे को मिट्टी तेल से भिगो कर वाहनों पर फेंक दिया।

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में अब पुलिस भी सुरक्षित नहीं रह गई है। अब गुरुवार देर रात कुछ बदमाशों ने थाने में घुसकर वहां खड़ी गाड़ियों में आग लगा दी। ये गाड़ियां वहां पदस्थ पुलिसकर्मियों की ही थीं। आवाज सुनकर पुलिसकर्मी बाहर परिसर में आए, और आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन तब तक गाड़ियां जलकर खाक हो चुकी थी। सूचना मिलने पर सुबह अधिकारी भी थाने पहुंचे। मामला कुन्नी पुलिस चौकी का है।

बताया जा रहा है कि कार वहां तैनात हेड कांस्टेबल की और बाइक एक अन्य कांस्टेबल की थी।
बताया जा रहा है कि कार वहां तैनात हेड कांस्टेबल की और बाइक एक अन्य कांस्टेबल की थी।

जानकारी के मुताबिक, कोरबा बार्डर पर लखनपुर थाना क्षेत्र के कुन्नी पुलिस चौकी में पदस्थ पुलिसकर्मियों की कार और बाइक खड़ी थी। देर रात करीब 12 से 1 के बीच किसी ने केरोसिन से भीगा बोरा उसके ऊपर डालकर आग लगा दी। गाड़ियों के टायर फटने की आवाज आई तो पुलिसकर्मी बाहर आए। वहां कोई नहीं था। आग लगी देख उन्होंने बुझाने का प्रयास किया, पर सफलता नहीं मिली। अभी तक पता नहीं चल सका है कि यह किसने किया।

मौसम खराब होने के कारण लाइट नहीं थी, पूरा क्षेत्र अंधेरे में था
स्थानीय लोगों ने बताया कि मौसम खराब होने के कारण कुन्नी चौकी क्षेत्र में लाइट नहीं थी। जिससे पूरे क्षेत्र में अंधेरा था। इसका फायदा उठाते हुए बदमाशों ने बोरे को मिट्टी तेल से भिगो कर वाहनों पर फेंक दिया। इसके चलते वह भी आग की चपेट में आ गए। बताया जा रहा है कि कार वहां तैनात हेड कांस्टेबल की और बाइक एक अन्य कांस्टेबल की थी। वहीं सरगुजा SP टीआर कोशिमा ने SDOP चंचल तिवारी को मौके पर भेजा और जांच के निर्देश दिए हैं।

फरवरी में थाने में कांस्टेबल को पीटा था, तब 3 हुए थे गिरफ्तार
इससे पहले भी 28 फरवरी को मोटर व्हीकल एक्ट में पकड़े गए तीन आरोपियों ने सदर कोतवाली में कांस्टेबल की पिटाई कर दी थी। आरोपी पहले अन्य पुलिसकर्मियों से उलझे। इसी दौरान कांस्टेबल सत्येंद्र दुबे आया और उसने शांत रहने के लिए कहा। कुछ देर बाद आरोपियों ने अपने साथियों को बुला लिया और कांस्टेबल की पिटाई कर दी। सूचना मिलने पर अफसर पहुंचे तो उन्हें जाने दिया। हंगामा बढ़ा तो तीन दिन बाद उनकी गिरफ्तारी हुई।

संबंधित पोस्ट

कोरोना दुनिया में:ब्राजील में लगातार दूसरे दिन 50,000 से कम संक्रमित मिले; कनाडा में 55 साल से कम उम्र वालों को एस्ट्राजेनेका वैक्सीन लगाने पर रोक

Khabar 30 din

छत्तीसगढ़ में कल से मिलेगी आनलाईन शराब-एप से होगी बुकिंग

Khabar 30 din

अयोध्या में एक परिवार के 5 लोगों की हत्या:सगे भांजे ने पहले मामा-मामी का गला रेता, फिर उनके तीन मासूम बच्चों को बेरहमी से काट डाला; 16 घंटे के भीतर मुख्य आरोपी गिरफ्तार

Khabar 30 din

MP में पहली बार एक्टिव केस 1 लाख के पार:इलाज कराने वाले कोरोना मरीजों की संख्या 7 दिन में 15,297 बढ़ी, इसमें इंदौर अव्वल

Khabar 30 din

थप्पड़बाज IAS की एक और शिकायत:कलेक्टर रहते रणबीर शर्मा ने एक नाबालिग को भी पीटा था, पिता ने की FIR की मांग; राष्ट्रीय बाल आयोग ने भेजा नोटिस

Khabar 30 din

उपचुनाव का घमासान:कमलनाथ के सरकार बनाने के दावे पर विजयवर्गीय का तंज; बोले- इस उम्र में नींद नहीं आती है तो सपने आते हैं और सपने देखने में बुराई क्या है?

Khabar 30 din