ब्रेकिंग न्यूज़
क्राईम छत्तीसगढ़ लोकल ख़बरें

बिलासपुर में साधु से मारपीट:आश्रम का दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे युवकों ने लाठी-डंडों से पीटा, महिला कर्मचारी को भी मारा; देर रात स्पीकर पर गाना बंद करने को कहा था

बिलासपुर
  • साधु ने एक दिन पहले देर रात स्पीकर पर तेज गाना बजाने से मना किया था। आरोप है कि युवकों ने उनके सिर पर वार कर दिया। इस दौरान बीच-बचाव करने आई आश्रम की महिला कर्मचारी की भी जमकर पीटा।

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में कुछ युवकों ने गुरुवार शाम को एक साधु की पिटाई कर दी। आश्रम का दरवाजा तोड़कर घुसे युवकों ने साधु पर लाठी-डंडों से हमला किया। इस दौरान बीच-बचाव करने आई आश्रम की महिला कर्मचारी की भी जमकर पीटा। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साधु ने एक दिन पहले देर रात स्पीकर पर तेज गाना बजाने से मना किया था। मामला कोटा थाना क्षेत्र का है। घटना का वीडियो भी वायरल है।

गुरुवार शाम करीब 5 बजे वही 4 युवक उनके आश्रम का दरवाजा तोड़कर अंदर घुस आए। उनमें से एक आरोपी ने खुद का नाम सोनू साहू बताया। इसके बाद गालियां देनी शुरू कर दी।
गुरुवार शाम करीब 5 बजे वही 4 युवक उनके आश्रम का दरवाजा तोड़कर अंदर घुस आए। उनमें से एक आरोपी ने खुद का नाम सोनू साहू बताया। इसके बाद गालियां देनी शुरू कर दी।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम धनरास के सौराबांधा में स्वामी अड़गेड़नंद आश्रम बनाकर करीब 10 साल से रहते हैं। एक दिन पहले बुधवार रात करीब 11 बजे कुछ युवक आश्रम के पास पहाड़ी पर स्पीकर से गाना बजा रहे थे। इस पर स्वामी अड़गेड़नंद ने युवकों से कहा कि उन्हें आराम करना है। आप लोग गाना बंद कर दीजिए। इस पर युवक भड़क गए और उन्हें धमकी दी कि अगले दिन आश्रम में 4 बजे आएंगे फिर बताएंगे।

आश्रम में घुसकर गालियां दे रहे थे, मना करने पर डंडे से मारा
अगले दिन गुरुवार शाम करीब 5 बजे वही 4 युवक उनके आश्रम का दरवाजा तोड़कर अंदर घुस आए। उनमें से एक आरोपी ने खुद का नाम सोनू साहू बताया। इसके बाद गालियां देनी शुरू कर दी। आरोप है कि साधु ने मना किया तो सोनू ने लकड़ी से उनके सिर पर वार कर दिया। उसके अन्य साथियों ने भी गालियां देते हुए डंडे से पीटने लगे। इस दौरान आश्रम में रहने वाली चैती यादव बीच-बचाव करने आई तो उसके सिर पर डंडे से वार किया।

15 मई को भी कुछ लोगों ने आश्रम में हमला किया था
हमले के बाद सारे आरोपी वहां से भाग निकले। इसके बार देर शाम किसी तरह अपनी कर्मचारी चैती यादव के साथ साधु अड़गेड़नंद थाने पहुंचे। अपने साथ वह वारदात में प्रयुक्त डंडा भी लेकर गए। इसी डंडे से आरोपियों ने उनको पीटा था। पुलिस ने दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया है। इससे पहले भी 15 मई को आश्रम में गांव के कुछ लोगों ने लोहे के चिमटे से उन पर वार किया था। इसके बाद बाबा ने कोटा थाने में FIR दर्ज कराई थी।

संबंधित पोस्ट

महासमुंद की जिला जेल से दोपहर 3:30 बजे 5 कैदी फरार; कंबल जोड़कर 21 फीट ऊंची दीवार पर चढ़कर दूसरी ओर उतरे, जेलर स्कूटी से करते रहे पीछा

Khabar 30 din

बेंगलुरु के मासूम की हत्या के आरोपी रायपुर से गिरफ्तार:3 जून को अपहरण के बाद की थी 9 साल के बच्चे की हत्या

Khabar 30 din

रायपुर के बंद पड़े बार में घुसे चोरों ने बीयर पी, स्नैक्स खाकर वहीं सो गए, फिर 4 दिनों तक रोज आते रहे; वाइन की 50 बोतलें, राशन और TV ले गए

Khabar 30 Din

GPM में फ्री ऑक्सीजन उपलब्ध करा रहा हॉस्पिटल ब्लड मेडिसिन ग्रुप, अब तक 300 से ज्यादा सिलेंडर दिए

Khabar 30 Din

पंजाब में 6 साल की बच्ची से रेप, फिर पटककर मारा; सबूत मिटाने के लिए आरोपी के दादा ने लाश जला दी

Khabar 30 Din

नर्सिंग की परीक्षा 6 जुलाई से होगी, कार्यक्रम जारी; ऑनलाइन एग्जाम कराने पर नहीं माना आयुष विश्वविद्यालय

Khabar 30 din