ब्रेकिंग न्यूज़
अन्य देश विदेश बड़ी खबर ब्रेकिंग न्यूज़ सोशल मीडिया

हैती में भूकंप से 1,297 लोगों की मौत, तूफान के दस्तक देने से बिगड़ सकते हैं हालात

हैती में 14 अगस्त को 7.2 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप में लगभग 5,700 लोग घायल हुए हैं, जबकि हज़ारों की संख्या में लोग बेघर हो गए हैं. भूकंप से देश के दक्षिण-पश्चिम हिस्से में कई शहर लगभग पूरी तरह से तबाह हो चुके हैं और भूस्खलन होने से बचाव अभियान प्रभावित हो रहा है. सोमवार देर रात तक तूफान ‘ग्रेस’ के हैती पहुंचने से हालात और ख़राब होने की आशंका जताई जा रही है.

लेस कायेस (हैती):  कैरेबियाई देश हैती में 14 अगस्त को आए 7.2 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप के कारण रविवार (15 अगस्त) तक 1,297 लोगों की मौत हो गई.

इस हफ्ते की शुरुआत में तूफान ‘ग्रेस’ के हैती पहुंचने और उसकी वजह से मूसलाधार बारिश की आशंका के बीच बचाव अभियान तीव्र गति से चलाए जा रहे हैं.

भूकंप के कारण कम से कम 5,700 लोग घायल हुए हैं और हजारों लोग बेघर हो गए हैं.

भीषण गर्मी के बावजूद लोग खुले में रहने को मजबूर हैं और मरीजों से पटे अस्पतालों में लोग इलाज के लिए इंतजार कर रहे हैं.

इस हफ्ते की शुरुआत में संकट और भी बढ़ सकता है, क्योंकि तूफान ‘ग्रेस’ सोमवार रात तक हैती पहुंच सकता है.

अमेरिका के राष्ट्रीय तूफान केंद्र ने रविवार को कहा कि तूफान बहुत शक्तिशाली नहीं होगा, लेकिन मौसम विज्ञानियों ने आगाह किया है कि भारी बारिश, बाढ़ और भूस्खलन का खतरा बना हुआ है.

शनिवार (14 अगस्त) को हैती के दक्षिण-पश्चिम हिस्से में भूकंप आने से कई शहर लगभग पूरी तरह से तबाह हो चुके हैं और भूस्खलन होने से बचाव अभियान प्रभावित हो रहा है.

भूकंप के कारण कोरोना वायरस से पहले से बुरी तरह प्रभावित हैती के लोगों की पीड़ा और भी बढ़ गई है.

अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण ने कहा है कि भूकंप का केंद्र राजधानी पोर्ट-ओ-प्रिंस से करीब 125 किलोमीटर की दूरी पर था. रविवार को भी यहां झटके महसूस किए गए. रविवार को लोग स्थानीय बाजार में खाने-पीने की वस्तुएं जुटाने के लिए उमड़ पड़े.

प्रधानमंत्री एरियल हेनरी ने कहा कि वह ऐसे स्थानों पर मदद भिजवा रहे हैं, जहां पर शहर तबाह हो चुके हैं और अस्पताल मरीजों से भर गए हैं.

प्रधानमंत्री ने पूरे देश में एक महीने की आपात स्थिति की घोषणा की है.

उन्होंने कहा कि कुछ शहर तो लगभग पूरी तरह से तबाह हो चुके हैं और स्थानीय अस्पताल, खासकर भूकंप से बुरी तरह प्रभावित लेस कायेस के अस्पताल मरीजों से भरे हैं.

हैती के नागरिक सुरक्षा कार्यालय की ओर से बताया गया कि 7,000 से अधिक मकान नष्ट हो गए तथा करीब 5,000 क्षतिग्रस्त हो गए. अस्पताल, स्कूल, कार्यालय और गिरजाघर भी प्रभावित हुए हैं.

हैती पर यह आपदा ऐसे समय आई है जब देश कोरोना से जूझ रहा है और उसके पास इन संकटों से निपटने के संसाधनों की कमी है.

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूएसऐड प्रशासक समांथा पॉवर को हैती को अमेरिकी मदद देने के लिए समन्वयक अधिकारी के रूप में नियुक्त किया है.

पॉवर ने रविवार को कहा कि हैती के सरकार के अनुरोध पर यूएसऐड वर्जीनिया से तलाश एवं बचाव दलों को वहां भेज रहा है. 65 लोगों का दल आपदा मोचन कार्य में मदद देने के लिए विशेष उपकरण एवं चिकित्सा आपूर्ति पहुंचाएगा.

अमेरिकी तटरक्षक बल ने कहा कि एक हेलीकॉप्टर चिकित्साकर्मियों को हैती की राजधानी से भूकंप प्रभावित क्षेत्र में ले जा रहा है और घायलों को वहां से निकालकर पोर्ट-ओ-प्रिंस लाएगा.

क्यूबा का 253 सदस्यीय स्वास्थ्य मिशन भी हैती पहुंच चुका है.

हैती भूकंप के लिहाज से विश्व के संवेदनशील क्षेत्रों में है.

इससे पहले साल 2010 में हैती में आए भूकंप से सर्वाधिक तबाही हुई थी. 2010 में हैती में 7.0 तीव्रता का भूकंप आया था, जिसमें राजधानी पोर्ट-ओ-प्रिंस बड़े पैमाने पर तबाह हो गई थी. इसे हैती के इतिहास का सबसे विनाशकारी भूकंप माना जाता है. इस दौरान लगभग एक लाख से लेकर तीन लाख तक लोगों की मौत हुई थी. बड़े पैमाने पर इमारतें जमींदोज हो गई थीं. बड़े पैमाने पर लोग बेघर हुए थे.

इसके बाद हैती में 2018 में 5.9 की तीव्रता का भूकंप आया था, जिसमें दर्जनभर से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी.

संबंधित पोस्ट

एसीबी की कार्रवाई:जांजगीर में इंजीनियर और उसका सहायक 20 हजार रुपए घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार; निर्माण कार्य के मूल्यांकन एवज में ले रहा था रुपए

Khabar 30 din

देश में कोविड-19 के 15,823 नए मामले

Khabar 30 din

बेंगलुरु हिंसाः कर्नाटक हाईकोर्ट ने यूएपीए के तहत आरोपी 115 लोगों को ज़मानत दी

Khabar 30 din

रायपुर : राज्य शासन ने सभी मनरेगा श्रमिकों को एकरूपता से मजदूरी भुगतान के लिए केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय को लिखा पत्र

Khabar 30 din

Twitter पर हुए बड़े हैकिंग अटैक को लेकर कंपनी ने दी अहम जानकारी, कर्मचारियों को वश में किया गया

Khabar 30 din

त्योहारों से पहले भारत में पूरी तरह से खुल जाएंगे एयरपोर्ट, हरदीप सिंह पुरी ने दी ये बड़ी जानकारी

Khabar 30 din