ब्रेकिंग न्यूज़
Rakesh-Asthana-PTI
अन्य देश विदेश प्रदेश ब्रेकिंग न्यूज़ मनोरंजन राजनीति सोशल मीडिया

राकेश अस्थाना संबंधी याचिका पर सरकार ने कहा, कथित अखंडता रक्षक हर नियुक्ति को चुनौती देते हैं

खबर 30 दिन

राकेश अस्थाना की दिल्ली पुलिस कमिश्नर के रूप में नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर केंद्र सरकार ने आपत्ति जताते हुए दिल्ली हाईकोर्ट में कहा है कि प्राधिकारियों द्वारा की गई किसी भी नियुक्ति को चुनौती देना ‘तथाकथित अखंडता बनाए रखने वालों’ के लिए एक पेशा बन गया है.

राकेश अस्थाना

नई दिल्ली: बुधवार, 18 अगस्त को केंद्र सरकार ने राकेश अस्थाना की दिल्ली पुलिस कमिश्नर के रूप में नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर आपत्ति जताई और कहा कि प्राधिकारियों द्वारा की गई किसी भी नियुक्ति को चुनौती देना ‘तथाकथित अखंडता बनाए रखने वालों’ के लिए एक पेशा बन गया है.गौरतलब है कि अस्थाना की दिल्ली पुलिस कमिश्नर के रूप में नियुक्ति 31 जुलाई को उनकी सेवानिवृत्ति से चार दिन पहले 27 जुलाई को हुई है. उनका कार्यकाल एक साल का होगा. 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी अस्थाना पहले केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) में विशेष निदेशक रह चुके हैं.

यह उन चुनिंदा उदाहरणों में से है, जब एजीएमयूटी (अरुणाचल प्रदेश-गोवा-मिजोरम और केंद्र शासित) कैडर के बाहर से एक आईपीएस अधिकारी को दिल्ली पुलिस प्रमुख के रूप में नियुक्त किया गया हो.

दिल्ली हाईकोर्ट की मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और जस्टिस ज्योति सिंह की पीठ वकील बीएस बग्गा के माध्यम से दाखिल की गई सदरे आलम की याचिका पर सुनवाई कर रही है.

दिल्ली हाईकोर्ट ने अभी तक कोई नोटिस जारी नहीं किया है और पूछा है कि क्या उनकी नियुक्ति से संबंधित कोई अन्य याचिका किसी अदालत के समक्ष लंबित है.अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल चेतन शर्मा ने कहा कि उनकी जानकारी में अभी तक किसी भी अन्य अदालत में ऐसी कोई याचिका लंबित नहीं है. केंद्र सरकार के स्थायी वकील अमित महाजन ने कहा, ‘विभाग को इसकी जानकारी नहीं है.’पीठ ने वकील से कहा, ‘निर्देश लीजिए. पता लगाइए और सोमवार को आइए.’बग्गा ने अदालत से याचिका पर नोटिस जारी करने का अनुरोध किया. हालांकि अदालत ने कहा, ‘नहीं, नहीं. हमें अभी इसमें हर चीज पढ़नी है. हम देखेंगे.’अदालत इस मामले पर अगली सुनवाई 24 अगस्त को करेगी.बता दें कि दिल्ली विधानसभा ने अस्थाना को दिल्ली पुलिस कमिश्नर नियुक्त करने के खिलाफ एक प्रस्ताव भी पारित किया है.

संबंधित पोस्ट

कंगना vs शिवसेना 9वां दिन:कंगना के खिलाफ ड्रग्स मामले में जांच शुरू; एक्ट्रेस ने शिवसेना को सोमनाथ मंदिर का इतिहास याद दिलाया, कहा- जीत भक्ति की ही होती है

Khabar 30 din

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में राजद्रोह क़ानून का बचाव करते हुए कहा- पुनर्विचार की ज़रूरत नहीं

Khabar 30 din

भारत सर्वाधिक कोविड टीकाकरण करने वाले अग्रणी देशों में शामिल : राष्ट्रपति कोविंद

Khabar 30 Din

यूपी: गोडसे के जन्मदिन पर हिंदू महासभा ने की विशेष पूजा, मेरठ का नाम ‘गोडसे नगर’ करने की मांग

Khabar 30 din

कमिश्नर पहुंचे किरर घाट, क्षतिग्रस्त मार्ग को जल्द पूर्ण कराने दिए निर्देश

Khabar 30 Din

DRDO की कोरोनारोधी दवा के आपात इस्तेमाल को मिली मंजूरी, आसानी से ली जा सकेगी खुराक

Khabar 30 din
error: Content is protected !!