ब्रेकिंग न्यूज़
अन्य देश विदेश प्रदेश ब्रेकिंग न्यूज़ मनोरंजन राजनीति सोशल मीडिया

राकेश अस्थाना संबंधी याचिका पर सरकार ने कहा, कथित अखंडता रक्षक हर नियुक्ति को चुनौती देते हैं

खबर 30 दिन

राकेश अस्थाना की दिल्ली पुलिस कमिश्नर के रूप में नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर केंद्र सरकार ने आपत्ति जताते हुए दिल्ली हाईकोर्ट में कहा है कि प्राधिकारियों द्वारा की गई किसी भी नियुक्ति को चुनौती देना ‘तथाकथित अखंडता बनाए रखने वालों’ के लिए एक पेशा बन गया है.

राकेश अस्थाना

नई दिल्ली: बुधवार, 18 अगस्त को केंद्र सरकार ने राकेश अस्थाना की दिल्ली पुलिस कमिश्नर के रूप में नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर आपत्ति जताई और कहा कि प्राधिकारियों द्वारा की गई किसी भी नियुक्ति को चुनौती देना ‘तथाकथित अखंडता बनाए रखने वालों’ के लिए एक पेशा बन गया है.गौरतलब है कि अस्थाना की दिल्ली पुलिस कमिश्नर के रूप में नियुक्ति 31 जुलाई को उनकी सेवानिवृत्ति से चार दिन पहले 27 जुलाई को हुई है. उनका कार्यकाल एक साल का होगा. 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी अस्थाना पहले केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) में विशेष निदेशक रह चुके हैं.

यह उन चुनिंदा उदाहरणों में से है, जब एजीएमयूटी (अरुणाचल प्रदेश-गोवा-मिजोरम और केंद्र शासित) कैडर के बाहर से एक आईपीएस अधिकारी को दिल्ली पुलिस प्रमुख के रूप में नियुक्त किया गया हो.

दिल्ली हाईकोर्ट की मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और जस्टिस ज्योति सिंह की पीठ वकील बीएस बग्गा के माध्यम से दाखिल की गई सदरे आलम की याचिका पर सुनवाई कर रही है.

दिल्ली हाईकोर्ट ने अभी तक कोई नोटिस जारी नहीं किया है और पूछा है कि क्या उनकी नियुक्ति से संबंधित कोई अन्य याचिका किसी अदालत के समक्ष लंबित है.अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल चेतन शर्मा ने कहा कि उनकी जानकारी में अभी तक किसी भी अन्य अदालत में ऐसी कोई याचिका लंबित नहीं है. केंद्र सरकार के स्थायी वकील अमित महाजन ने कहा, ‘विभाग को इसकी जानकारी नहीं है.’पीठ ने वकील से कहा, ‘निर्देश लीजिए. पता लगाइए और सोमवार को आइए.’बग्गा ने अदालत से याचिका पर नोटिस जारी करने का अनुरोध किया. हालांकि अदालत ने कहा, ‘नहीं, नहीं. हमें अभी इसमें हर चीज पढ़नी है. हम देखेंगे.’अदालत इस मामले पर अगली सुनवाई 24 अगस्त को करेगी.बता दें कि दिल्ली विधानसभा ने अस्थाना को दिल्ली पुलिस कमिश्नर नियुक्त करने के खिलाफ एक प्रस्ताव भी पारित किया है.

संबंधित पोस्ट

जांच में लापरवाही से हत्या के 5 आरोपी बरी, कोर्ट ने दो पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए

Khabar 30 Din

अब ब्लैक फंगस बन गया जानलेवा:इंदौर, भोपाल के बाद बढ़ा खतरा, उज्जैन में युवक और खंडवा में महिला की मौत

Khabar 30 din

2387 करोड़ का दूसरा अनुपूरक बजट पारित:नेता प्रतिपक्ष का हमला- हर सेकंड 5 हजार कर्ज ले रही सरकार; भूपेश का पलटवार, हम किसानों के लिए कर्ज लेते हैं, भाजपा की तरह मोबाइल बांटने नहीं

Khabar 30 din

तमिलनाडुः पीएम मोदी की आलोचना संबंधी वीडियो बनाने के आरोपी को यूपी पुलिस ने गिरफ़्तार किया

Khabar 30 din

सीमा विवाद पर राहुल के मोदी सरकार से तीखे सवाल, उन्हीं के बयानों को पेश कर बोले- डर किस बात का है?

Khabar 30 din

छत्तीसगढ़ कोरिया जिले के खोंगापानी नगर पंचायत अध्यक्ष के नाम पर ब्रांडिंग की नई परम्परा-शासकीय राशि के दुरूपयोग की नई शुरूआत?

Khabar 30 din