ब्रेकिंग न्यूज़
Tripura-High-Court
अन्य क्राईम ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति

त्रिपुरा हाईकोर्ट ने अल्पसंख्यकों पर कथित हमले पर राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी

खबर 30 दिन

अगरतला/गुवाहाटी/कोहिमा/इम्फाल/शिलॉन्ग/ईटानगर: त्रिपुरा में अल्पसंख्यकों को निशाना बनाए जाने और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने की खबरों के बीच त्रिपुरा हाईकोर्ट ने शुक्रवार को राज्य सरकार को इन घटनाओं पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, अदालत ने मामले पर स्वतः संज्ञान लेते हुए चीफ जस्टिस इंद्रजीत महंती और जस्टिस सुभाशीष तलपात्रा ने त्रिपुरा सरकार से राज्य में अल्पसंख्यकों के खिलाफ हिंसा की घटनाओं और सोशल मीडिया पर की गई सांप्रदायिक पोस्ट को लेकर की गई कार्रवाई की विस्तृत रिपोर्ट 10 नवंबर तक दाखिल करने को कहा है.

त्रिपुरा हाईकोर्ट ने कहा, ‘हम राज्य को ऐसे सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के खिलाफ उचित कार्रवाई करने का निर्देश देते हैं, जिससे सुनिश्चित किया जा सके कि इस तरह क झूठे, काल्पनिक और मनगढ़ंत खबरों, तस्वीरों या वीडियो को प्रसारित नहीं किया जाए और अगर इन्हें प्रसारित किया जाताा है तो इन्हें जल्द से जल्द हटाया जाए. हाईकोर्ट आज से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को भी जिम्मेदारी से कार्य करने का आह्वान करता है. मीडिया को अपनी गतिविधियों के एक हिस्से के रूप में सच्चाई को प्रकाशित करने का पूरा अधिकार है लेकिन इसे सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने या झूठ फैलाने के लिए इस्तेमाल नहीं करने दिया जाना चाहिए.’

हाईकोर्ट ने यह तब कहा, जब राज्य सरकार ने शुक्रवार को यह बताया कि धार्मिक स्थलों, विशेष रूप से अल्पसंख्यकों से जुड़े स्थानों पर पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की गई है और फर्जी सोशल मीडिया पोस्ट के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं.

त्रिपुरा सरकार ने भी यह कहा है कि बाहर से निहित स्वार्थों वाले कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर जलती हुई मस्जिद की फर्जी तस्वीर अपलोड कर राज्य में अशांति फैलाने और छवि खराब करने की साजिश रची थी. इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था और नौ अलग-अलग मामले दर्ज किए गए थे.

सूचना एवं संस्कृति मंत्री सुशांता चौधरी ने कहा कि पुलिस को जांच में पता चला है कि उत्तरी त्रिपुरा के पानीसागर में कई भी मस्जिद नहीं जलाई गई, जैसा कि सोशल मीडिया पोस्ट दावा किया गया है.

चौधरी ने वीडियो संदेश में कहा, ‘पानीसागर में किसी भी मस्जिद को जलाने की कोई घटना नहीं हुई थी. त्रिपुरा में अशांति पैदा करने और राज्य के सभी वर्गों के लोगों के विकास की प्रक्रिया को बाधित करने के लिए सांप्रदायिक तनाव फैलाने वाले लोगों के समूह द्वारा 26 अक्टूबर को सोशल मीडिया पर फेक न्यूज अपलोड की गई थी.’

बांग्लादेश में हाल में हिंदुओं के ख़िलाफ़ हिंसा के विरोध में विश्व हिंदू परिषद द्वारा 26 अक्टूबर को निकाली गई रैली के दौरान उत्तर त्रिपुरा के पानीसागर उप-संभाग में एक मस्जिद में तोड़फोड़ की गई और दो दुकानों में आग लगा दी गई थी.

राहुल गांधी ने कहा- मुसलमानों से क्रूरता हो रही, सरकार कब तक करेगी अंधी-बहरी होने का नाटक

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को दावा किया कि त्रिपुरा में मुस्लिम समुदाय के लोगों के साथ क्रूरता हो रही है. उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आखिर सरकार कब तक अंधी-बहरी होने का नाटक करती रहेगी?

कांग्रेस सांसद ने ट्वीट कर कहा, ‘त्रिपुरा में हमारे मुसलमान भाइयों पर क्रूरता हो रही है. हिंदू के नाम पर नफ़रत व हिंसा करने वाले हिंदू नहीं, ढोंगी हैं. सरकार कब तक अंधी-बहरी होने का नाटक करती रहेगी?’

राहुल गांधी ने यह ट्वीट उस समय किया है जब पिछले कुछ दिनों से त्रिपुरा हिंसा से कथित तौर पर संबंधित तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किए जा रहे हैं.

उधर, उत्तर त्रिपुरा जिले के पानीसागर उपमंडल के चमटीला में विश्व हिंदू परिषद् की एक रैली के दौरान एक मस्जिद में तोड़फोड़ की घटना के दो दिनों बाद त्रिपुरा पुलिस ने बृहस्पतिवार को लोगों से अपील की कि घटना के बारे में अफवाह व फर्जी तस्वीरें नहीं फैलाएं.

पुलिस ने कहा कि किसी भी मस्जिद में आग नहीं लगाई गई जैसा कि सोशल मीडिया में फर्जी तस्वीरें पोस्ट की जा रही हैं.

संबंधित पोस्ट

कपास पर सीमा शुल्क से किसानों को नहीं होगा कोई ख़ास लाभ: किसान कार्यकर्ता

Khabar 30 din

शरजील इमाम की रिहाई भारत में मुसलमानों के यक़ीन के लिए ज़रूरी है

Khabar 30 din

रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वाले का CM के साथ फोटो!:दिग्विजय सिंह ने फोटो शेयर कर पूछा- शिवराजजी आप इस ‘नर पिशाच’ आकाश दुबे को जानते हैं ना?

Khabar 30 din

बेंगलुरु के मासूम की हत्या के आरोपी रायपुर से गिरफ्तार:3 जून को अपहरण के बाद की थी 9 साल के बच्चे की हत्या

Khabar 30 din

कोविड संक्रमण से उत्तर प्रदेश सरकार के तीसरे मंत्री और पांचवें विधायक का निधन

Khabar 30 din

गोला-बारूद खत्म हुआ तो चीनी सैनिकों को बूटों से मारा, इन्हीं को याद कर गाया गया- ऐ मेरे वतन के लोगो…

Khabar 30 din
error: Content is protected !!