ब्रेकिंग न्यूज़
9_1635982281
देश विदेश ब्रेकिंग न्यूज़ सोशल मीडिया

4000 साल पुरानी 300 ममी का राज खुला:यूरेशिया से आकर बसे ये लोग; अब तक माना जाता था कि पश्चिम के काला सागर क्षेत्र से आए

  • मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट के बयान के अनुसार तकलामाकन रेगिस्तान में फली-फूल ये सभ्यता काफी हद तक शहरी थी।

चीन के तकलामाकन रेगिस्तान में गुंबदों में मिली लगभग 4000 साल पुरानी 300 ममी का राज खुल गया है। अब तक वैज्ञानिक मानते थे कि ये लोग चीन के पश्चिम में काला सागर क्षेत्र से आए थे। क्योंकि इन ममी के चेहरे की बनावट और कपड़े पश्चिमी प्रतीत होते थे। कई वर्षों तक वैज्ञानिक ये मानते रहे कि ये ममी चीन के मूल निवासियों की नहीं है। वैज्ञानिक शोध जारी रहे।

अब ये खुलासा हुआ है कि ये लोग यूरेशिया से यहां आकर बसे थे। राज खोल इन ममी की पड़ताल में पाए गए केफिर पनीर ने। ये पनीर और ममी पर पाए गए कपड़ों और एपिडरा नामक औषधीय पौधों के अवशेष पाए गए हैं। चीन के चैंगचुन की जिलिन यूनिवसिर्टी के प्रो. यीगयूई चुई के अनुसार ये बहुत बड़ी खोज है। इससे मानवीय बसावट के बारे में पता चला है। साथ ही बरसों से चली आ रही वैज्ञानिक सोच में भी बदलाव हुआ है।

पलायन करीब 11 हजार साल पहले हुआ
वैज्ञानिकों ने इन ममी के जैनेटिक एनालिसिस से नए और प्रमाणिक तथ्य जुटाए हैं। चीन के उत्तर में स्थित यूरेशिया से इन लोगों का पलायन लगभग 11 हजार साल पहले हुआ था। ये लोग उत्तर से आकर चीन के तकलामाकन के रेगिस्तान में बसे थे। चीन में 1990 के दशक में लगभग 300 ममी की खोज हुई थी।

अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिकों के समूह ने सैंपल के रूप में 13 ममी की पड़ताल की। इनके डीएनए सैंपल भी लिए गए। मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट के बयान के अनुसार तकलामाकन रेगिस्तान में फली-फूल ये सभ्यता काफी हद तक शहरी थी। इन लोगों के बाहरी दुनिया से अच्छे संबंध थे। व्यापारिक लेन-देन भी होता था।

ब्यूटी ऑफ शियाहाेई ने वैज्ञानिकों को बरगलाया था
एक महिला की ममी को ब्यूटी ऑफ शियाहोई का नाम दिया गया। इसके भूरे बाल और वेशभूषा के कारण वैज्ञानिक मानते थे कि ये लोग पश्चिम के काला सागर क्षेत्र से आए थे। लेकिन अब ये धारणा गलत साबित हो गई है।

संबंधित पोस्ट

योगगुरु पर भड़के छत्तीसगढ़ के जूनियर डॉक्टर:कहा- एलोपैथी पर दिए बयान पर सार्वजनिक रूप से माफी मांगे रामदेव, मामला दर्ज करने की भी मांग

Khabar 30 din

फर्जीवाड़ा:ईएसआई की महंगी दवा बेचने के आरोप में डॉक्टर समेत 5 अरेस्ट, मरीजों को बिना जरूरत की महंगी दवाएं भी लिखते थे

Khabar 30 din

सीएम योगी का बड़ा एलान , आधी हुई बिजली की कीमत, अब तीन रुपए प्रति यूनिट देना होगा चार्ज

Khabar 30 din

Govt notifies Covid-19 as disaster; announces Rs 4 lakh ex-gratia for deaths

Khabar 30 din

गौतम गंभीर फाउंडेशन ने गैरकानूनी तरीके से फेबीफ्लू दवा जमा की, उन पर बिना देर किए एक्शन लेंगे- ड्रग कंट्रोलर

Khabar 30 din

छत्तीसगढ़ में ठंड से एक और मौत!:खुले आसमान के नीचे रातभर सोती रही महिला, लाश मिली तो तन पर कपड़े भी नहीं थे

Khabar 30 din
error: Content is protected !!