April 22, 2024 4:52 am

IAS Coaching
IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

राहुल गांधी ने इलेक्टोरल बॉन्ड को बताया सबसे बड़ा ‘वसूली रैकेट’, मोदी सरकार पर लगाए भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप

Electoral Bonds का डाटा भारतीय निर्वाचन आयोग द्वारा सार्वजनिक होने के बाद विपक्षी दल बीजेपी पर हमलावर हैं। इसको लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इन चुनावी बॉन्ड को जबरन वसूली रैकेट का एक बड़ा खेल बताता है।

उन्होंने आरोप लगाया है कि सीबीआई ईडी और इनकम टैक्स जांच नहीं करते हैं बल्कि बीजेपी के लिए वसूली करते हैं।

राहुल गांधी ने बीजेपी पर तगड़ा हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी राज्यों में जो सरकारें गिरा रही है, उसके लिए पैसा कहां से आ रहा है। बीजेपी ने पूरे पॉलिटिकल सिस्टम को कैप्चर कर लिया है। जांच एजेंसिया्ं अब जांच नहीं, बल्कि वसूली कर रही हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि कहा कि इससे बड़ी एंटी नेशनल एक्टिविटी नहीं हो सकती है। कांग्रेस नेता ने कहा कि राज्यों में कांग्रेस सरकारों द्वारा दिए गए ठेकों और चुनावी बॉन्ड के बीच कोई संबंध नहीं है।

चंदा लेकर बांट रहे कॉन्ट्रैक्ट

कांग्रेस नेता ने कहा कि जांच एजेंसियों के इस्तेमाल से कंपनियों से वसूली की जा रही है, बड़े ठेकों का शेयर लिया जा रहा है। कॉन्ट्रैक्ट देने से पहले चुनावी चंदा लिया जा रहा है। ये पूरा ढांचा पीएम मोदी ने तैयार किया है। राहुल गांधी ने मिलिंद देवड़ा को लेकर कहा कि देवड़ा का बीजेपी में जाना कोई बड़ी बात नहीं है।

राहुल गांधी ने कहा कि मिलिंद देवड़ा और अशोक चव्हाण चले गए लेकिन हमारी पार्टी बरकरार है। इसी पैसे का इस्तेमाल कर एनसीपी और शिवसेना को तोड़ा गया। राहुल गांधी ने कहा कि हमारी पार्टी साफ सुथरी है। आगामी लोकसभा चुनाव में इंडिया ब्लॉक महाराष्ट्र में बंपर जीत हासिल करेगा।

राहुल ने बताया – कब होगी BJP पर कार्रवाई?

राहुल ने कहा कि देश में जो संस्थाएं हुआ करती थी, वो अब BJP और RSS की हथियार हैं, इसलिए ये सब हो रहा है। अगर ये संस्थाएं अपना काम करतीं तो ये सब नहीं होता। साथ ही कहा कि इन सभी संस्थाओं को ये सोचना चाहिए कि एक न एक दिन बीजेपी की सरकार जाएगी, फिर कड़ी कार्रवाई होगी।

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी बीजेपी पर चंदे का काला खेल करने के आरोप लगाए थे। उन्होंने पूछा कि बीजेपी को 50 प्रतिशत से ज्यादा कर्ज मिला है जबकि कांग्रेस केवल 11 प्रतिशत का ही चंदा हासिल कर पाई है। उन्होंने बीजेपी कांग्रेस के बीच इस अंतर को लेकर पूछा कि आखिर यह इतना ज्यादा कैसे है।

खड़गे ने मांग की है बीजेपी को इलेक्टोरल बॉन्ड के जरिए जो चंदा मिला है, उसकी सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में एसआईटी द्वारा जांच की जाए। खड़गे ने कहा कि जब तक बीजेपी के चंदे की जांच पूरी न हो, तब तक बीजेपी के सभी अकाउंट्स सीज कर दिए जाएं।

Leave a Comment

Advertisement