May 22, 2024 9:54 am

लेटेस्ट न्यूज़

सैम पर शियासत गरमाई, गृहमंत्री शर्मा बोले सैम कांग्रेस के हिडेन एजेंडे का करते है जिक्र, देश तोड़ने वालों को दिया टिकट

छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री विजय शर्मा ने सैम पित्रोदा के बयान का जिक्र करते हुए कहा कि, सैम पित्रोदा कांग्रेस के हिडन एजेंडे का जिक्र करते हैं। जिस तरह महात्मा गांधी को दक्षिण अफ्रीका में रंग की वजह से उतार दिया गया था।

उसी तरह कांग्रेस रंगीय भेद के आधार पर राजनीति करना चाहती है। साथ ही उन्होंने महाभारत काल का भी जिक्र करते हुए सैम पित्रोदा को माफ़ी मांगने की मांग की है।

राम मंदिर के बनने से मेरा स्वाभिमान तुष्ट हुआ

गृहमंत्री श्री शर्मा ने आगे कहा कि, पूर्व पीएम जवाहर लाल नेहरू ने भी खुद को एक्सीडेंटल हिंदू कहा था। सैम पित्रोदा ने राम मंदिर को भी काल्पनिक कहा था। रोटी, कपडा और मकान भी जीवन नहीं होता है स्वाभिमान भी जीवन होता है। बाबर ने राम मंदिर को तोड़ा था लेकिन उसके बाद भी पूजा अर्चना होती थी। लेकिन राम मंदिर के बनने से मेरा स्वाभिमान तुष्ट हुआ है। उन्होंने आगे कहा कि, सैम पित्रोदा ने अमेरिका की तर्ज पर भारत में भी विरासत टैक्स लगाने की बात कही है। भारत में जीवन कई पीढ़ियों का होता है, यदि किसी ने मेहनत करके पैसे कमाए है तो उसको लेकर अधिक बच्चों को दे देना उचित नहीं है। ऐसे विषय नहीं रखने चाहिए। विषय यह होना चाहिए कि, भारत कैसे एक साथ आगे बढ़ सके।

मोहब्बत की दुकान में बेच रहे नफरत का सामान

गृहमंत्री श्री शर्मा ने आगे कहा कि, मैं यह जरूर कहना चाहता हूं कि, कांग्रेस की मोहब्बत की दुकान में हर जगह नफरत का सामान बिक रहा है। दक्षिण भारत में भी अलग देश बनाने की बात जिस व्यक्ति ने कहा उसे कांग्रेस ने लोकसभा का टिकट दे रखा है। JNU में भारत विरोधी नारे लगाए जाते है उस व्यक्ति को भी कांग्रेस ने शरण देकर रखा है। उन्होंने आगे कहा कि, 26-11 आतंकी हमले में शहीद हेमंत करकरे के बारे में सैम पित्रोदा ने था कहा कि, वह कसाब की गोली नहीं से मरा है। सर्जिकल स्ट्राइक पर भी राहुल गांधी ने सवाल उठाया था। जबकि तब के पाकिस्तान के पीएम इमरान का वीडियो मेरे फेसबुक पोस्ट पर आज भी है। जिसमें उसने कहा था कि, जो हमला हुआ है ऐसा हमला पाक अधिकृत कश्मीर में फिर हो सकता है। इमरान खान मान रहा है लेकिन ये कांग्रेस नहीं मान रही है।

बघेल ने कांकेर मुठभेड़ को बताया था फर्जी

उन्होंने आगे कहा कि, कांकेर में 29 नक्सलियों के मारे जाने के बाद भूपेश बघेल ने इसे फर्जी कहा था। जबकि 18 अप्रैल को नक्सलियों ने 29 लोगों की सूची जारी करके कहा था कि, हमारे इतने लोग शहीद हुए हैं। यह सब कुछ सैम पित्रोदा से मिला जुला है। कांग्रेस सैम पित्रोदा का आजीवन निष्कासन करे। सौ साल की पुरानी पार्टी है अब तक के इतिहास में सब कम सीटों पर चुनाव लड़ रही है। सरकार इनकी बन रही है इसका भरोसा इन्हें खुद नहीं है। इसलिए ये पूर्णतः विभाजन चाहते हैं और दक्षिण भारत को अलग देश बनाने वाले को टिकट देते हैं। उन्होंने आगे कहा कि, राजद्रोह खत्म हो चूका है लेकिन राष्ट्रद्रोह खत्म नहीं हुआ है। राजा को गाली दे सकते हो लेकिन राष्ट्र को नहीं। कांग्रेस देश में विभाजन की स्थिति लाना चाहती है। जिस तरह से कांग्रेस ने 60 सालों तक धारा 370 को पाल के रखा विभाजित रखा लगभग देश को बांट के रखा है।

Khabar 30 Din
Author: Khabar 30 Din

Leave a Comment

Advertisement