April 14, 2024 9:28 pm

IAS Coaching
IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

Ration Card News : राशन कार्ड धारकों के लिए बड़ी खबर, गेहूं और चावल को लेकर बदल जाएंगे यह पुराने नियम

नई दिल्ली. देश के करोड़ों राशन कार्ड धारकों (Ration Card Holders) के लिए अच्छी खबर है. अब दिल्ली-एनसीआर ही नहीं यूपी, बिहार, राजस्थान, पंजाब, एमपी, पश्चिम बंगाल, झारखंड और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों में राशन वितरण में गड़बड़ी की शिकायत नहीं मिलेगी. एक मार्च 2024 से पूरे देश में राशन बांटने की व्यवस्था में बदलाव होने जा रहा है. 1 मार्च 2024 के बाद राशन कार्ड धारकों को वितरण में गड़बड़ी सहित अन्य तरह की परेशानियों से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाएगा. गांव-देहात में बैठे उपभोक्ताओं और दुकानदारों पर जिला मुख्यालय में बैठे अधिकारियों की नजर रहेगी.

जिला आपूर्ति विभाग में बैठे अधिकारी हों या दिल्ली में बैठे अधिकारी सभी अब पीडीएस के दुकानों पर कमतौली या घटतौली पर विशेष नजर रखेंगे. पूरे देश में ई-पोश मशीन लगाई जा रही है. इस मशीन के जरिए ही अब गांव में बैठे लोगों को राशन मिलने लगेगा. साथ ही इस बात की भी जानकारी मिल जाएगी कि दुकानदार कितना कम गेहूं और चावल उपभोक्ता को दे रहा है.

ration card , ration card news in india , ration card new rule in india , 1 march 2024 , bihar ration card holders , Rajasthan govt ration catrd news , Ration card new update , rashan card news, consumer news , antyadaya yojna, villages and urban populations, modi government Food Department , how to apply govt ration shop near me , up ration news , bihr ration card news , jharkhand ration news , Rajasthan govt on ration card , rashan card news, राशन कार्ड , पीडीएस , दुकानदार , राशन कार्ड धारकों के लिए बदल जाएंगे यह नियम

देश के कई हिस्सों में उपभोक्ताओं की तरफ से शिकायत मिल रही थी कि गेहूं और चावल तौल में कम दिया जा रहा है.

एक मार्च 2024 से पूरे देश में करोड़ों राशन कार्ड धारकों को राज्यों के जिला आपूर्ति विभाग में अब शिकायत नहीं करनी पड़ेगी. पूरे देश के 80 करोड़ से भी ज्यादा राशन कार्ड होल्डरों को अब घटतौली की शिकायत नहीं करनी पड़ेगी. क्योंकि जिला आपूर्ति विभाग के अधिकारी के साथ-साथ राज्यों और दिल्ली में बैठे अधिकारी राशन के मापतौल में गड़बड़ी नहीं होने देंगे.

कम राशन अब नहीं मिलेंगे
देश के कई हिस्सों में उपभोक्ताओं की तरफ से शिकायत मिल रही थी कि गेहूं और चावल तौल में कम दिया जा रहा है. कई अन्य जगहों से शिकायत मिल रही थी कि यहां महीनों से राशन नहीं दिया जा रहा है. ऐसे में केंद्र सरकार के खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने पीडीएस केंद्रों के लिए एक नई नीति बनाई. अब राशन कार्ड से जुड़े किसी भी शिकायत पर तुरंत कार्रवाई ही नहीं होगी, बल्कि दुकानदार का लाइसेंस भी तुरंत ही रद्द कर दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें: कुछ दिन और चल सकेंगी पुरानी कार-बाइक, फिर पकड़े गए तो सीधा कबाड़ में पहुंचेगी गाड़ी, क्या है हल? जानिए अभी

कुलमिलकर अगर आपको दुकानदार कम राशन देता है या कम तौल का सामान दे रहा है तो आप दिल्ली से बैठे-बैठ भी दुकानदार का लाइसेंस रद्द करवा सकते हैं. इस योजना के तहत एक शख्स को तीन किलो गेहूं और दो किलो चावल मिल रहा है. अब ई-पोश मशीन के जरिए इलेक्ट्रिक कांटे पर इससे कम राशन तोला नहीं जा सकेगा. मोदी सरकार अब राशन बांटने की व्यवस्था भी ऑनलाइन शुरू करने जा रही है. इसका अधिकारी भी दफ्तर में बैठकर निगरानी कर सकेंगे.  ई-पोश मशीन से काफी हद तक घटतौली पर रोक लगेगी और नई व्यवस्था से घटतौली होने की गुंजाइश नहीं रहेगी.

Tags: BPL ration card, One Nation One Ration Card, Ration card, Ration Cardholders

Source link

Khabar 30 Din
Author: Khabar 30 Din

Leave a Comment

Advertisement