April 14, 2024 7:24 pm

IAS Coaching
IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

एमए इंग्लिश कर रहे एक छात्र को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 46 करोड़ रुपये का नोटिस भेजा

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एसएलपी कॉलेज से एमए इंग्लिश कर रहे एक छात्र को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 46 करोड़ रुपये का नोटिस भेजा है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income Tax Department) ने छात्र पर GST चोरी का मामला भी दर्ज किया है.

जबकि छात्र का कहना है कि वो बमुश्किल अपनी कॉलेज फीस भर पाता है. उसका स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) में एक ही बैंक अकाउंट है. टैक्स चोरी (Tax Evasion) से उसका कोई लेनादेना नहीं है. छात्र ने मामले की शिकायत एसपी ऑफिस में की है. पुलिस ने अब तक कि जांच में पाया कि छात्र के PAN कार्ड के आधार पर दिल्ली-पुणे में एक GST फर्म रजिस्टर्ड है. उसके अकाउंट से अटैच इस GST फर्म से साल 2021 से अभी तक 46 करोड़ रुपये का ट्रांजैक्शन हो चुका है.

क्या है मामला?
ग्वालियर के हस्तिनापुर का रहने वाला प्रमोद दंडोतिया एमए इंग्लिश का छात्र है. 27 जनवरी को उसके पोस्टल एड्रेस पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का एक नोटिस आया था. नोटिस आने पर उसे हैरानी हुई, क्योंकि उसका कोई इनकम सोर्स ही नहीं है. ऐसे में इनकम टैक्स कैसे बनेगा. छात्र को पहले तो लगा कि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से कुछ गलती हो गई होगी. इनकम टैक्स के ऑफिस पहुंचने पर उसे बताया गया कि उसके नाम से GST फर्ज रजिस्टर्ड है, जिसमें साल 2021 से जनवरी 2024 तक 46 करोड़ का लेनदेन हुआ है.

दिल्ली-पुणे में चल रही है फर्जी कंपनी
पुलिस की जांच में सामने आया कि छात्र के नाम से बने GST फर्म को दिल्ली और पुर्ण में ऑपरेट किया जा रहा है. इस फर्म ने लंबे समय से GST नहीं भरा है. चूंकि GST फर्म छात्र के पैन कार्ड पर है, लिहाजा इनकम टैक्स ने उसे रिकवरी का नोटिस भेजा.

छात्र ने फ्रॉड की जताई आशंका
पीड़ित छात्र ने आशंका जताई है कि किसी ने उसके पैन कार्ड की कॉपी कर उससे GST फर्म बना ली होगी. छात्र ने पुलिस को यह भी बताया कि 3 सालों के दौरान उसके बैंक अकाउंट में न तो कोई क्रेडिट हुआ और न ही कोई डेबिट हुआ है. छात्र इनकम टैक्स, GST डिपार्टमेंट, कलेक्टर और पुलिस के आला अधिकारियों से मिल चुका है. अब तक इस मामले में उसे कोई मदद नहीं मिल पाई है.

एडिशनल एसपी से लगाई मदद की गुहार
पीड़ित छात्र शुक्रवार को भी क्राइम ब्रांच के एडिशनल एसपी सियाज के पास पहुंचा और मदद की गुहार लगाई. छात्र को पुलिस ने साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराने को कहा है. वही, इनकम टैक्स के अफसर ने छात्र को पुलिस के पास जाकर अपने साथ हुए फ्रॉड का केस दर्ज करा कर उसकी कॉपी डिपार्टमेंट में जमा कराने को कहा है.

Leave a Comment

Advertisement