April 22, 2024 6:26 am

IAS Coaching
IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

बस्तर की बदौलत सम्पूर्ण विजय की तैयारी में बीजेपी

रायपुर। हमेशा से बीजेपी के फोकस और कांग्रेस के गढ़ कहे जाने वाले बस्तर से केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बैठक लेकर लोकसभा चुनाव के लिए रणनीतिक प्रचार शुरू कर दिया है। अमित शाह एक दिवसीय दौरे पर छत्तीसगढ़ पहुंचे।

जहां उन्होंने कोंडागांव में 3 लोकसभा क्षेत्रों की बैठक ली।

बैठक क्लस्टर वाइस रही, जिसमे कांकेर, बस्तर और महासमुंद लोकसभा क्षेत्र के नेता और पदाधिकारी शामिल हुए । इस पूरी बैठक में लगभग 150 लोग मौजूद रहे। जिसमे क्लस्टर प्रभारी, लोकसभा प्रभारी, क्षेत्र के सांसद, पूर्व सांसदों से चर्चा की गई। बैठकों में क्या कुछ खास रहा और इन्ही क्षेत्रों में बीजेपी का फोकस क्यों है देखिए एक रिपोर्ट ।
बता दें जीन तीन लोकसभा क्षेत्र की बैठक शाह ने ली है इन क्षेत्रों में बीजेपी ने विधानसभा चुनाव में 50% से कम स्कोर किया है, यानी कही 8 विधानसभा है तो 5 कांग्रेस के पास 3 बीजेपी के पास वाली स्थिति रही हैं। अब बीजेपी लोकसभा चुनाव के जरिए फिर एक बार जनता तक पहुंचने की कोशिश कर रही है । प्रदेश में बीजेपी आगामी चुनाव को देखते हुए 50 अलग अलग जगहों पर बुद्धिजीवी सम्मेलन करने जा रही हैं तो वहीं “लाभार्थी संपर्क योजना” के तहत घर घर जा कर जनता के बीच योजनों के सुचारू क्रियान्वयन की भी जानकारी चाहती है। ताकि चुनाव के ठीक पहले लोगो को बीजेपी के किए काम याद रहे और रिपोर्ट कार्ड सही मिले।

बैठक में शामिल कांकेर लोकसभा सीट की बात करें तो इस क्षेत्र में 8 विधानसभा आते है। संजारी बालोद, डौंडीलोहार, गुंडरदेही, सिहावा, अंतागढ़, भानु प्रतापपुर, केशकाल, और कांकेर 8 विधानसभाओं में 5 में कांग्रेस है तो 3 में बीजेपी जिसमे 2 सीट st आरक्षित है ।

बस्तर लोकसभा सीट की बात करें तो 8 विधानसभा क्षेत्र जगदलपुर, बस्तर, चित्रकूट, कोंडागांव, नारायणपुर, सुकमा, बीजापुर, दंतेवाड़ा है जिसमे 3 पर कांग्रेस और 5 पर बीजेपी है । पर इस क्षेत्र से वर्तमान सांसद कांग्रेस के है। बस्तर में टोटल वोटर में 60% आदिवासी, 20% ओबीसी, और 20% जनरल है।

तीसरे लोकसभा क्षेत्र की बात करें तो, महासमुंद लोकसभा सीट में भी 8 विधानसभा आते हैं जिसमे महासमुंद, खल्लारी, बसना, सरायपाली, बिंद्रा नवागढ़, धमतरी, कुरूद शामिल है। लोकसभा क्षेत्र की टोटल जनसंख्या 16 लाख के करीब है जिसमे 50 % ओबीसी है । इस लोकसभा सीट में विधानसभा चुनाव के दौरा बीजेपी कांग्रेस दोनों 50 – 50 में रहे थे, यानी 4 सीट कांग्रेस को तो 4 सीट बीजेपी को मिली थी। क्षेत्र में वर्तमान सांसद बीजेपी के है ।

अपने एक दिसवासिया दौरे पर प्रदेश पहुंचे अमित शाह ने क्षेत्रिय नेताओं को जीत के लिए आगे की रणनीति तो जरूर बताई होगी, जिसका असर ग्राउंड पर कुछ दिनों में दिखने लगेगा। पर क्या वाकई बीजेपी प्रदेश में 11 की 11 लोकसभा सीट जीत सकती हैं ये कहना फिलहाल कठिन विषय है। पर बीजेपी की जमीनी तैयारी बैठकों के रूप पक्की दिख रही हैं।

Leave a Comment

Advertisement