June 17, 2024 1:15 am

लेटेस्ट न्यूज़

UPA के मुकाबले मोदी सरकार किस मामले में पिछड़ गया, आंखे खोल देने वाले 10 इंडिकेटर

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार इस बार 10 वर्षों के कार्यकाल में अपने प्रदर्शन के आधार पर वोट मांग रही है। उससे पहले 10 वर्षों तक केंद्र में मनमोहन सिंह की अगुवाई वाली यूपीए-1 और यूपीए-2 की सरकार थी।

इन दोनों सरकारों के कार्यकालों में देश कहां था और कहां पहुंचा, इसे दोनों ही के दो-दो कार्यकालों के 10 प्रमुख पैरामीटर्स के तुलनात्मक अध्ययन से समझा जा सकता हैं।

जीडीपी विकास दर

मनमोहन सिंह सरकार के पहले कार्यकाल यानी यूपीए-1 में जीडीपी विकास दर का सालाना औसत 6.9% था। यही यूपीए-2 के दौरान गिरकर 6.7% तक पहुंच गया।

2014 में नरेंद्र मोदी की सरकार आने के बाद एनडीए-1 की सरकार में जीडीपी विकास दर का सालाना 7.4% के औसत से दर्ज हुआ। लेकिन, एनडीए-2 की सरकार में यह 7.0% ही रहा। हालांकि, यह वह अवधि है, जब दुनिया कोविड महामारी की चपेट में रही और भारत ने दुनिया की तमाम विकसित अर्थव्यवस्थाओं से भी अच्छा प्रदर्शन करके दिखाया।

प्रति व्यक्ति आय (हजार रुपए में/ औसतन)

यूपीए-1 सरकार में सालाना प्रति व्यक्ति आय 56.5 हजार रुपए थी, जो यूपीए-2 में बढ़कर 72 हजार रुपए पहुंच गई।

एनडीए-1 की सरकार में यह 94.4 हजार रुपए और दूसरे कार्यकाल में 1 लाख 14.6 हजार रुपए तक पहुंची है। यहां यह बताना जरूरी है कि मोदी सरकार को अपने दूसरे कार्यकाल में कोविड महामारी के दौर से भी गुजरना पड़ा।

बेरोजगारी दर (औसतन)

  • यूपीए-1 में 5.6%
  • यूपीए-2 में 5.5%
  • एनडीए-1 में 5.6%
  • एनडीए-2 में 4.3% (कोविड महामारी काल शामिल)

मुद्रास्फीति/ महंगाई (औसतन)

  • यूपीए-1 में 7.7%
  • यूपीए-2 में 9.0%
  • एनडीए-1 में 4.2%
  • एनडीए-2 में 5.7%

राजकोषीय घाटा (जीडीपी का प्रतिशत-औसतन)

  • यूपीए-1 में 4%
  • यूपीए-2 में 5.4%
  • एनडीए-1 में 3.7%
  • एनडीए-2 में 5.9% (कोविड महामारी काल शामिल)

फूड सब्सिडी (अरब रुपए)

  • यूपीए-1 में 1,480 अरब रुपए
  • यूपीए-2 में 3,721 अरब रुपए
  • एनडीए-1 में 5,689 अरब रुपए
  • एनडीए-2 में 14,241 अरब रुपए

फर्टिलाइजर सब्सिडी (अरब रुपए)

  • यूपीए-1 में 1,697 अरब रुपए
  • यूपीए-2 में 3,265 अरब रुपए
  • एनडीए-1 में 3,469 अरब रुपए
  • एनडीए-2 में 8,030 अरब रुपए

रेल मार्ग की लंबाई

  • यूपीए-1 में 64,015 किलोमीटर
  • यूपीए-2 में 65,808 किलोमीटर
  • एनडीए-1 में 67,415 किलोमीटर
  • एनडीए-2 में 68,907 किलोमीटर से अधिक

राष्ट्रीय राजमार्ग की लंबाई

  • यूपीए-1 में 70,458 किलोमीटर
  • यूपीए-2 में 91,287 किलोमीटर
  • एनडीए-1 में 1,32,499 किलोमीटर
  • एनडीए-2 में 1,48,000 किलोमीटर से ज्यादा

एक अमेरिकी डॉलर की तुलना में रुपए का मूल्य (औसतन)

यूपीए-1 में 44.1 रुपए

यूपीए-2 में 51.2 रुपए

एनडीए-1 में 65.6 रुपए

एनडीए-2 में 77.1 रुपए

अन्य इंडिकेटरों के मुताबिक भी मोदी सरकार का प्रदर्शन बेहतर

इसके अलावा तमाम पैरामीटर ऐसे हैं, जिनमें मनमोहन सिंह सरकार के 10 साल के शासनकाल की तुलना में मोदी सरकार के 10 वर्षों का प्रदर्शन कहीं ज्यादा बेहतर नजर आ रहा है।

मसलन, घरेलू एलपीजी कनेक्शन मनमोहन सरकार के दूसरे कार्यकाल तक महज 16.625 करोड़ था तो यह मोदी सरकार के मौजूदा कार्यकाल में बढ़कर 31.4 करोड़ हो चुका है।

इसी तरह घरेलू बिजली कनेक्शन मनमोहन सरकार के दूसरे कार्यकाल तक 17.07 करोड़ था तो मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल तक बढ़कर 26.69 करोड़ हो चुका है।

यूपीए-2 की सरकार के दौरान कर राजस्व 32,139 अरब रुपए था, जो मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में 90,097 अरब रुपए हो चुका है।

प्रत्यक्ष विदेशी निवेश या एफडीआई यूपीए-2 तक 151.6 अरब डॉलर था, जो कि इस सरकार के मौजूदा कार्यकाल में 24.42 अरब डॉलर पहुंच चुका है। (स्रोत: प्रभुदास लीलाधर)

Anjan Kumar Chaudhary Oneindia

Khabar 30 Din
Author: Khabar 30 Din

Leave a Comment

Advertisement