April 22, 2024 5:52 am

IAS Coaching
IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

होली पर साढ़े चार घंटे का चंद्र ग्रहण, इन राशियों पर पड़ेगा प्रभाव, जानें रंग खेलना होगा शुभ या अशुभ

साल का पहला चंद्र ग्रहण फाल्गुन शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा के दिन लगने जा रहा है। इस दिन होली का त्योहार भी रहेगा।

ये ग्रहण कन्या राशि और हस्त नक्षत्र में लगेगा। जिस वजह से इस राशि और नक्षत्र के लोगों पर इस ग्रहण का सबसे ज्यादा का प्रभाव पड़ेगा। ग्रहण की शुरुआत 25 मार्च को सुबह 10 बजकर 24 मिनट से हो चुकी है। यहां आप जानेंगे इस चंद्र ग्रहण की शहर अनुसार क्या टाइमिंग रहेगी।

Chandra Grahan 2024 Time (चंद्र ग्रहण 2024 समय)

उपच्छाया से पहला स्पर्श – 10:24 AM
परमग्रास चन्द्र ग्रहण – 12:43 PM
उपच्छाया से अन्तिम स्पर्श – 03:01 PM
उपच्छाया की अवधि – 04 घण्टे 36 मिनट्स 56 सेकण्ड्स
उपच्छाया चन्द्र ग्रहण का परिमाण – 0.95

Chandra Grahan 2024 City Wise Timing (चंद्र ग्रहण 2024 शहर अनुसार समय)

शहर का नाम चंद्र ग्रहण का समय
नई दिल्ली 10:24 AM – 03:01 PM
मुंबई 10:24 AM – 03:01 PM
नोएडा 10:24 AM – 03:01 PM
बेंगलुरु 10:24 AM – 03:01 PM
चेन्नई 10:24 AM – 03:01 PM
अहमदाबाद 10:24 AM – 03:01 PM
हैदराबाद 10:24 AM – 03:01 PM
कोलकाता 10:24 AM – 03:01 PM
जयपुर 10:24 AM – 03:01 PM
पुणे 10:24 AM – 03:01 PM
सूरत 10:24 AM – 03:01 PM
कानपुर 10:24 AM – 03:01 PM
नागपुर 10:24 AM – 03:01 PM
लखनऊ 10:24 AM – 03:01 PM
पटना 10:24 AM – 03:01 PM
गाजियाबाद 10:24 AM – 03:01 PM
लुधियाना 10:24 AM – 03:01 PM
विशाखापट्टनम 10:24 AM – 03:01 PM
राजकोट 10:24 AM – 03:01 PM
वाराणसी 10:24 AM – 03:01 PM
श्रीनगर 10:24 AM – 03:01 PM
अलीगढ़ 10:24 AM – 03:01 PM
गुरुग्राम 10:24 AM – 03:01 PM
भुवनेश्वर 10:24 AM – 03:01 PM
जालंधर 10:24 AM – 03:01 PM
गोरखपुर 10:24 AM – 03:01 PM
बीकानेर 10:24 AM – 03:01 PM
तिरुचिरापल्ली 10:24 AM – 03:01 PM
मैसूर 10:24 AM – 03:01 PM
बरेली 10:24 AM – 03:01 PM
कोटा 10:24 AM – 03:01 PM
रायपुर 10:24 AM – 03:01 PM
जोधपुर 10:24 AM – 03:01 PM
विजयवाड़ा 10:24 AM – 03:01 PM
इंदौर 10:24 AM – 03:01 PM
जम्मू 10:24 AM – 03:01 PM
चंडीगढ़ 10:24 AM – 03:01 PM
देहरादून 10:24 AM – 03:01 PM
उदयपुर 10:24 AM – 03:01 PM

ज्योतिष अनुसार इस चंद्र ग्रहण का होली त्योहार पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। क्योंकि ये एक उपच्छाया चंद्र ग्रहण है और इस तरह का ग्रहण वास्तविक ग्रहण नहीं माना जाता है। इसलिए इस दौरान सूतक काल भी मान्य नहीं होता।

Leave a Comment

Advertisement