May 22, 2024 10:13 am

लेटेस्ट न्यूज़

रायबरेली से राहुल गांधी, प्रियंका ने जीत का सगुफ़ा छोड़ा, बीजेपी पर गम्भीर आरोप

क्या 5 साल बाद अमेठी लोकसभा सीट वापस कांग्रेस पार्टी के पास आएगी या फिर सारे रिकॉर्ड टूट जाएंगे और ऐसा पहली बार होगा कि लगातार दो चुनाव में इस सीट पर भाजपा को जीत मिलेगी और कांग्रेस को हार…

ये देखने के लिए अभी 4 जून तक इंतजार करना होगा। लेकिन खास बात ये है कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का गढ़ कही जाने वाली अमेठी और रायबरेली सीट के लिए खुद गांधी परिवार की बेटी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मोर्चा संभाल लिया है। ये देखना दिलचस्प होगा कि क्या अपने भाई राहुल गांधी को पांच साल पहले मिली हार का बदला लेने में वो सफल हो पाएंगी। अमेठी के स्थानीय नेता और कांग्रेस उम्मीदवार किरोड़ी लाल शर्मा (केएल शर्मा) को जीत दिलाने में कामयाब होंगी?

रायबरेली से राहुल की जीत सुनिश्चित करने की कोशिश

अमेठी के साथ-साथ प्रियंका के कंधों पर अपने भाई राहुल गांधी की रायबरेली सीट से जीत सुनिश्चित करने का दारोमदार है। यही वजह है कि वो इन दिनों अमेठी और रायबरेली में ज्यादा से ज्यादा समय दे रही हैं। राहुल गांधी की जनसभाएं देशभर में हो रही हैं, वो केरल के वायनाड सीट से चुनाव लड़ रहे हैं, जहां वोटिंग हो चुकी है। इसके अलावा अब वो गांधी परिवार की विरासत वाली सीट, जहां से अब तक उनकी मां सोनिया गांधी सांसद रही हैं… चुनाव लड़ रहे हैं। ऐसे में प्रियंका इस सीट पर लगातार प्रचार कर रही हैं।

प्रियंका ने राहुल के बारे में झूठ फैलाने का लगाया आरोप

इसी कड़ी में कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी की पूरी मशीनरी ही राहुल गांधी के खिलाफ झूठ फैलाने में लगी हुई है। भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी धर्म, जाति और मंदिर-मस्जिद के बारे में बात करती है लेकिन लोगों से जुड़े वास्तविक मुद्दों के बारे में बात नहीं करती। गांधी परिवार का गढ़ समझी जाने वाली रायबरेली लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी अपने भाई राहुल गांधी के लिए प्रचार कर रहीं प्रियंका ने कहा कि रायबरेली के लोग नेताओं को अच्छी तरह समझते हैं।

थुलवासा में एक नुक्कड़ सभा में क्या बोलीं प्रियंका गांधी?

रायबरेली के थुलवासा में एक नुक्कड़ सभा में उन्होंने कहा, ‘जब उन्हें इंदिराजी (इंदिरा गांधी) की कोई नीति पसंद नहीं आई तो उन्होंने उन्हें भी हरा दिया। इंदिरा गुस्सा नहीं हुईं बल्कि आत्ममंथन किया। आपने उन्हें दोबारा चुना। यह रायबरेली के लोगों की खासियत है कि वे नेताओं को समझते हैं।’ प्रियंका ने कहा, ‘आपको मालूम होगा कि राहुल गांधी ने कितना संघर्ष किया है। वह हमारे देश में एक ऐसे इंसान हैं जिनके बारे में भाजपा की पूरी मशीनरी ने हर तरीके से गलत बातें और झूठ फैलाया। कैसे-कैसे आक्रमण किये। उनको संसद से निकाल दिया गया, उनको घर से निकाल दिया गया लेकिन राहुल पीछे नहीं हटे। यह उनका चरित्र है कि जब वह अन्याय होते हुए देखते हैं तो वह न्याय की लड़ाई लड़ते हैं और उससे कदम पीछे नहीं खींचते।’

राहुल गांधी के भारत जोड़ो यात्रा का किया जिक्र

प्रियंका गांधी ने कहा, ‘इसीलिए राहुल कन्याकुमारी से कश्मीर तक चार हजार किलोमीटर पैदल चले और फिर उसके बाद मणिपुर से लेकर मुंबई तक उन्होंने यात्रा की। यह आपकी समस्याओं को समझने वाली यात्राएं थीं। यह देश को बताने वाली यात्राएं थीं कि देश में राजनीति की जो दिशा है वह गलत हो रही है तथा हमें उसे ठीक करना है।’ उन्होंने कहा कि राहुल की यात्राएं हमारे उन राजनीतिक उसूलों के बारे में जनता को याद दिलाने वाली यात्राएं थी, जो महात्मा गांधी जी ने हमें दिये और जिनके आधार पर हमारा देश आजाद हुआ। ‘उन यात्राओं के बाद यह बात गहराई से समझ में आई कि आप सबकी समस्याएं क्या हैं।’

बेरोजगारी के मुद्दे पर प्रियंका ने भाजपा को घेरा

प्रियंका ने बेरोजगारी के मुद्दे पर भाजपा को घेरते हुए कहा कि भाजपा की सरकार के समय में केन्द्र में 30 लाख पद खाली पड़े हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा बेरोजगारी दूर करने की योजनाएं नहीं लाती बल्कि लोगों की उम्मीदों को तोड़ने वाली योजनाएं लाती है। उन्होंने कहा ‘भाजपा की जितनी भी योजनाएं हैं, सब बड़े-बड़े खरबपतियों के लिए हैं। आप यह समझ लीजिए कि बड़े-बड़े खरबपतियों के 16 लाख करोड़ रुपए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने माफ किए हैं। यह किसके पैसे हैं? यह मोदी जी के पैसे तो हैं नहीं। वह देश के पैसे हैं।’ उन्होंने कहा कि महंगाई और बेरोजगारी के बारे में भाजपा के नेता बात ही नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा ‘भाजपा के नेता यहां आएंगे और भाषण में धर्म की बात करेंगे, जाति की बात करेंगे, मंदिर-मस्जिद की बात करेंगे, मगर आपकी समस्याओं पर बात नहीं करेंगे।’

प्रियंका ने कहा कि आज देश में सबसे बड़ी दो समस्याएं महंगाई और बेरोजगारी की हैं। उन्होंने कहा कि जब खर्च करना पड़ता है तो घबराहट होती है क्योंकि आज नरेन्द्र मोदी के राज में महंगाई इतनी बढ़ चुकी है कि आम जनता अपना गुजारा नहीं कर पा रही है। उन्होंने कहा ‘इसके लिए आपकी मदद करने की बजाय मोदी जी की सरकार ने आपको पांच किलो राशन का बोरा पकड़ा दिया। उनकी सोच यह है कि वही आपके लिए काफी होना चाहिए, लेकिन वह काफी हो नहीं रहा है।’

1977 में इंदिरा गांधी की हार का किया जिक्र

कांग्रेस महासचिव ने वर्ष 1977 में रायबरेली लोकसभा क्षेत्र से अपनी दादी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पराजय का जिक्र करते हुए कहा कि रायबरेली के लोग बेहद जागरूक हैं। उन्होंने कहा, ‘जब आपको कुछ बातें इंदिरा जी के समय में अच्छी नहीं लगीं तो आपने उनको हराया। इंदिरा जी इससे नाराज नहीं हुई। आपने जो किया उस पर उन्होंने आत्मचिंतन किया। उन्होंने सोचा कि हो सकता है, मुझसे कुछ गलती हुई। वह फिर से चुनाव के लिए आईं और आपने उन्हें जिताया।’ उन्होंने मतदाताओं से भविष्य के प्रति जागरूक रहकर वोट देने की अपील करते हुए कहा, ‘आज जागरूक होना बहुत महत्वपूर्ण है। आप समझिए कि आपका वोट अपने बच्चों के भविष्य को बनाने के लिए जाना चाहिए, अपने गांव में तमाम सुविधाओं के लिए जाना चाहिए, आपका वोट आपके अधिकारों को मजबूत बनाने के लिए जाना चाहिए।’

भाजपा पर संविधान बदलने का फिर लगाया आरोप

प्रियंका ने कहा, ‘भाजपा के लोग कह रहे हैं कि हमें वोट दो, तो हम संविधान बदल देंगे। आपको मजबूत बनाने वाली सभी संस्थाओं को मोदी सरकार ने कमजोर कर डाला है और अब वह संविधान बदलने की बात कर रही है। जब यह बात ज्यादा फैलने लगी और मोदी जी को लगा कि इससे चुनावी नुकसान हो जाएगा। तब वह कहने लगे कि हम संविधान नहीं बदलेंगे लेकिन उन्होंने बहुत सी ऐसी चीजें की हैं जिसने जनता को कमजोर किया है।’

प्रियंका ने रायबरेली से पारिवारिक रिश्तों का जिक्र करते हुए कहा, ‘आप रायबरेली से हमारे परिवार का रिश्ता अच्छी तरह जानते हैं। मेरी माता जी 20 सालों से आपकी सांसद हैं और आपके लिए यहां पर जितने भी काम हो सके, उन्होंने किया। जब हमारी सरकारें थीं तो और काम हुआ। जब सरकारें नहीं रहीं तो जितना काम हम पार्टी की तरफ से कर सकते थे, हमने कराया। अब माता जी ने आपके पास मेरे भाई राहुल जी को भेजा है। इस चुनाव में राहुल जी आपके उम्मीदवार हैं।’ उन्होंने कहा, ‘आप राहुल जी को चुनकर भेजिये। आपको दो-दो लोग मिल जाएंगे। वह तो सांसद रहेंगे, मैं भी उनकी मदद के लिये आपके बीच काम करूंगी।’ उन्होंने कांग्रेस के न्याय पत्र में दी गई विभिन्न गारंटी का जिक्र करते हुए कहा कि पार्टी का घोषणा पत्र समाज के हर वर्ग के लिए कल्याणकारी साबित होगा।

Khabar 30 Din
Author: Khabar 30 Din

Leave a Comment

Advertisement