May 22, 2024 11:00 am

लेटेस्ट न्यूज़

“सीएए” पर राजनाथ सिंह, ममता बनर्जी में जुबानी जंग

विवादास्पद सीएए को लेकर रविवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच जुबानी जंग छिड़ गई। रक्षा मंत्री ने कहा कि सीएए को पूरे देश में किसी भी कीमत पर लागू किया जाएगा, जबकि मुख्यमंत्री ने कहा कि वह इसे कभी लागू नहीं होने देंगी।

राजनाथ सिंह ने मुर्शिदाबाद के जलांगी में एक चुनावी रैली में कहा, “सीएए उन लोगों को नागरिकता देने के लिए है जिन्होंने धार्मिक कारणों से पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान जैसे देशों को छोड़ दिया है। ममता बनर्जी और उनकी पार्टी इसका विरोध कर सकती है, लेकिन सीएए किसी भी कीमत पर देश में लागू किया जाएगा।”

रक्षा मंत्री ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ दल धार्मिक तनाव को बढ़ावा दे रहा है। यह नेताजी सुभाष चंद्र बोस और चैतन्य महाप्रभु की भूमि है।

रक्षा मंत्री ने कहा, ”पश्चिम बंगाल में अराजकता है।”

उत्तर बंगाल के पड़ोसी बालुरघाट इलाके में एक चुनावी रैली में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पलटवार करते हुए कहा कि वह देश में सीएए लागू नहीं होने देंगी।

मुख्यमंत्री ने कहा, “वे (भाजपा) सीएए और एनआरसी को चुनौती देने के मेरे अधिकार पर सवाल उठा रहे हैं। वे कौन होते हैं मुझसे सवाल करने वाले? जब मैंने कहा कि हम सीएए और एनआरसी को लागू नहीं होने देंगे तो मेरा मतलब यही है। उन्होंने असम में एनआरसी लागू करने की कोशिश की, तृणमूल कांग्रेस इसका विरोध करने वाली एकमात्र राजनीतिक पार्टी थी।”

उन्होंने भाजपा पर पिछले 10 वर्षों के दौरान केवल देश की संपत्तियों को बेचने पर ध्यान केंद्रित करने का भी आरोप लगाया।

मुख्यमंत्री ने कहा, “आपने देश की संपत्ति बेच दी है। आपने देश का इतिहास बदल दिया है। क्या आपने कोई अच्छा काम किया है? आपने मनरेगा के तहत 100 दिन की नौकरी के लिए केंद्र से मिलने वाला पैसा भी रोक दिया।”

Khabar 30 Din
Author: Khabar 30 Din

Leave a Comment

Advertisement